नई दिल्ली,ए.। कोरोना काल में दफ्तरों के अधिकतर काम ऑनलाइन हो रहे हैं। लेकिन दु:ख की बात ये है अब महिलाओं से ऑनलाइन छेड़छाड़ के मामले भी सामने आ रहे हैं। आपराधिक प्रवृत्ति वाले लोग इस ऑनलाइन वर्क कल्चर का अनैतिक लाभ लेने की कोशिश में लगे हैं। और ऑफिस की महिलाओं का ही ऑनलाइन छेड़छाड़ व लैंगिक शोषण करते हैं।

ऐसी ही एक घटना एक सॉफ्टवेयर कंपनी में कार्यरत 38 वर्षीय महिला (women face online eve teasing) कर्मचारी के साथ हुई है। सरिता (बदला हुआ नाम) एक दिन ऑफिस से घर लौटी। वह अपने परिवार के साथ खाना खाने ही जा रही थी कि अचानक उनके बॉस का उन्हें फोन आया। बॉस ने उसे जूम पर एक बिजनेस मीटिंग के लिए लॉगइन करने के लिए। सरिता कभी भी काम टालने वाली नहीं थी। उसने जूम पर लॉगइन किया।

न शर्ट पहनी थी न पेंट, कर रहा था विचित्र हरकतें

वीडियो शुरू होते ही वह शॉक रह गई। दरअसल उसके बॉस ने न शर्ट पहन रखी थी न ही पैंट। खास बात यह भी कि यह कोई बिजनेस मीटिंग भी नहीं थी। इसमें सरिता व उसका बॉस ही जुड़े हुए थे। सरिता का बॉस कैमरे के सामने बगैर शर्ट-पेंट पहने हुए बैठा था।और कैमरे के सामन उसकी हरकतें भी विचित्र थीं। वह अपने शरीर के विभिन्न स्थानों पर खुजा रहा था।

शिकायत कर पाना भी मुश्किल

सरिता के लिए इस पूरे मामले की शिकायत कर पाना भी कठिन था, क्योंकि उसके बॉस ने मीटिंग के दौरान उससे कोई अश्लील या आपत्तिजनक संवाद नहीं किया था। फिर भी बॉस को उक्त अवस्था में देख सरिता को काफी मानसिक आघात पहुंचा। इस तरह ऑनलाइन छेड़छाड़ के मामले कोरोना काल में सामने आ रहे हैं। इसकी पीड़िता अकेली सरिता नहीं है। सरिता जैसी अन्य महिलाएं भी हैं लेकिन उन्हें समझ नहीं आता कि वे ऐसे मामलों की शिकायत किससे व कैसे करें।