कोरबा ।जिले के ऊर्जा संयंत्रों से निकलने वाले राखड़ के परिवहन और डंपिंग में लापरवाही पर सख्त कार्यवाही की जाएगी। संयंत्रों से निकलने वाले राखड़ के सुरक्षित निष्पादन और राखड़ परिवहन वाले सड़कों की देखभाल करने की जिम्मेदारी ऊर्जा संयंत्र प्रबंधनों की होगी। कलेक्टर संजीव झा ने इस संबंध में आज कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित फ्लाई ऐश उपयोगिता समिति की समीक्षा बैठक में सख्त निर्देश दिए। कलेक्टर श्री झा ने तिरपाल ढांक कर ही राखड़ परिवहन करने तथा धूल उड़ने पर पानी का छिड़काव लगातार करते रहने के भी निर्देश दिए। उन्होंने राखड़ परिवहन के लिए अनुमति प्राप्त वाहनों पर अनुमति आदेश और इनवॉइस की कॉपी भी गाड़ी में रखने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने नियम विरुद्ध और गैर जिम्मेदाराना तरीके से राखड़ परिवहन करने पर कार्यवाही करने के निर्देश परिवहन और पर्यावरण विभाग के अधिकारियों को दिए। बैठक में जिले में स्थापित ऊर्जा संयंत्र बाल्को, एनटीपीसी, सीएसईबी, लैंको प्रबंधनों के अधिकारीगण शामिल हुए। साथ ही जिला प्रशासन से अपर कलेक्टर  विजेंद्र पाटले, डीएफओ कोरबा पी अरविंद, डीएफओ कटघोरा श्रीमती प्रेमलता यादव, सभी एसडीएम और पर्यावरण अधिकारी भी बैठक में मौजूद रहे।