प्रयागराज।कोरोना वायरस के चलते पिछले डेढ़ सालों से पूरे देश में भय का माहौल है और सभी कार्य शेत्र इससे प्रभावित हुए हैं। कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते सभी त्यौहार भी इससे प्रभावित हैं। इस बार 21 जुलाई को पूरे देश मे बकरीद का पर्व है ऐसे में प्रयागराज में कोरोना फ्री बकरों की धूम मची है।

ये खास तरह के बकरे हैं जिनके चेहरे पर मास्क लगा कर व्यापारी बेच रहे है, समय समय पर बकरों को सेनेटाइज़ड भी किया जा रहा है। ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए बकरा व्यापारी कोरोना फ्री बकरों को बेच रहे हैं।

कोरोना की दूसरी लहर से अब भले ही संक्रमित मरीजों की संख्या में कमी आई हो फिर भी इस बार बकरों की मंडी पहले जैसे सजी नहीं है। प्रशासन ने बकरा मंडी के लिए अनुमति नहीं दी है इससे बकरा व्यापारी जगह-जगह जाकर के कुर्बानी के बकरे बेचते हुए नजर आ रहे हैं, ऐसे में हमारी टीम जब प्रयागराज के हटिया क्षेत्र पहुंची तो वहां पर एक मैदान में काफी कुर्बानी वाले बकरे मास्क लगाए हुए दिखाई दिए।

व्यापारियों का कहना है कि इन बकरों को भी कोरोना वायरस गाइडलाइन्स का पालन कराया जा रहा है। चारा खिलाने के बाद इनके चेहरे पर मास्क लगा दिया जाता है जबकि थोड़ी-थोड़ी देर पर बॉडी को भी सैनिटाइज किया जाता है। लगातार बढ़ रहे पेट्रोल-डीजल के दामों की वजह से ट्रांसपोर्टेशन महंगा है जिसकी वजह से इस बार के बकरे महंगे बिक रहे हैं। हालांकि राहत यह है की कोरोना संक्रमण कम होने की वजह से लोग बकरे खरीदने आ रहे हैं।