The Duniyadari.Com: कोरबा। रेत घाट कल से शुरू हो रहा हैं। घाट से रेत निकालने ठेकेदार के गुर्गे तो रेत निकासी के लिए तैयार ही है साथ लंबे समय बाद घाट खुलने से परिवहन कर्ता यानी वाहन मालिक भी बेकरार हैं।
शुक्रवार से शुरू हो रहे रेत घाट के संचालन के ठेकेदार के गुर्गे रेत घाट में रेत निकालने तैयार हैं। तीन महीने के बाद शुरू हो रहे रेत खदान को लेकर प्रशासन भी अलर्ट हैं। क्योंकि जिस क़दर रेत निकालने के नाम पर पिछले दिनों खून खराबा हुआ था उससे पूरा शहर का माहौल खराब हुआ था। अब प्रशासन किसी तरह की रिस्क नहीं लेना चाहती हैं। जिले के 15 स्वीकृत रेत घाटों से रेत की निकासी लीज धारकों द्वारा की जायेगी। जिले में इस वर्ष 19 रेत घाटों की स्वीकृति निविदा प्रक्रिया के तहत मिली है जिसमें से चार रेत घाट तकनीकी कारणों से अभी शुरू नहीं हो पायेंगे। 19 स्वीकृत घाटों में कटघोरा विकासखण्ड में सात, कोरबा विकासखण्ड में एक, पाली विकासखण्ड में एक, करतला विकासखण्ड में पांच, पोड़ी विकासखण्ड में एक रेत घाट शामिल हैं जिसमे से कटघोरा विकासखण्ड के दो, करतला और पोड़ी विकासखण्ड के एक-एक रेत घाट तकनीकी कारणों से बंद रहेंगे। शेष 15 घाटों से रेत का उत्खनन 16 अक्टूबर से शुरू हो जायेगा।