जांजगीर। दशहरा देखने आए भीड़ को नियंत्रण करने दौरान पुलिस और पब्लिक में जमकर हाथापाई का मामला सामने आया है। भीड़ ने पुलिस की पिटाई के साथ वर्दी फाड़ने की घटना के बाद आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने अपराध दर्ज कर 5 लोगो को हिरासत में लिया है।
मामला जांजगीर जिला के जैजैपुर का है जंहा दशहरा मैदान में गढ़विजय प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था। इसमें हजारों की भीड़ थी। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस बल तैनात थी। इसी दौरान जैजैपुर निवासी विकास चंद्रा ने सड़क पर बाइक खड़ी कर दी। यह देख पुलिस के एक जवान ने उसे बाइक वहां से हटाने कहा ताकि लोगों को परेशानी न हो।
यह सुनते ही युवक पुलिसकर्मी से भिड़ गया। यह देख विकास और उसके साथी अनुज चंद्रा, गिरधारी चंद्रा, संजय चंद्रा, माइकल साहू, पप्पू चंद्रा, मोहन वैष्णव सहित 10-12 युवक गाली-गलौज करने लगे।
इसी बीच युवकों ने पुलिसकर्मी की जमकर पिटाई कर दी और उसकी वर्दी को भी फाड़ दिया। यह देख अन्य पुलिसकर्मी वहां पहुंचे तो दर्जनभर आरोपियों ने उनकी भी पिटाई की। हमले में पुलिसकर्मियों को गंभीर चोटें भी आई हंै। इसके बाद पुलिस की टीम मौके से जान बचाकर भागी।
5 आरोपी गिरफ्तार
इधर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 147, 149, 186, 294, 323, 332, 353, 506 के तहत जुर्म दर्ज किया। पुलिस ने शनिवार की सुबह मुख्य आरोपी विकास चंद्रा पिता हेतराम समेत संदीप चंद्रा पिता लोचन प्रसाद,

गिरधारी चंद्रा पिता बिसाहू राम, अनुज चंद्रा पिता मदन लाल, यश चंद्रा पिता हेतराम को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपियों को कोर्ट में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया।