रायपुर। देश को नई टेक्नोलॉजी के साथ जोड़ने व सी एस ई बी को घाटे से उबारकर फायदे की ओर ले जाने वाले पूर्व चेयरमेन उर्जा पुरुष श्री शुक्ला को राष्ट्रीय स्तर पर अवॉर्ड देने की मांग उठने लगी हैं।
छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत कम्पनी के पूर्व चेयरमैन शैलेन्द्र शुक्ला उर्जा क्षेत्र के एक चमकता सितारा है जहां भी पदस्थ रहे वहां अभा मण्डल में चमकते रहे। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनते ही उर्जा के क्षेत्र में एक ऐसा स्टार खिलाड़ी लेकर आया जो आते ही पॉवर कंपनीज के बेतरतीब खर्चे पर लगाम लगाया और कर्ज में डूबे पॉवर कम्पनी को अल्प समय में उबार कर हाफ बिजली बिल की परिकल्पना को साकार कर देश के अन्य राज्यो के लिए प्रेरणस्रोत बने ऐसे उर्जा पुरुष का मार्गदर्शन प्रदेश को ज्यादा दिन नहीं मिला लेकिन उन्होंने यह साबित कर दिया कि जहां चाह वहां राह अपने आप बनते जाता है। ऐसे उर्जा के विशेषज्ञ को आज देश जरूरत हैं। उनके अल्प समय के कार्यकाल को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार से उन्हें सम्मानित किया जाना चाहिए। इस संबंध में वरिष्ठ पत्रकार तपन चक्रवर्ती का कहना है कि मेरे चार दशक की पत्रकारिता में मैंने श्री शुक्ला जैसे प्रभावी ब्यक्ति नहीं देखा । वे बोलते कम थे और करते ज्यादा यदि का परिणाम है कि छत्तीसगढ़ में दम तोड़ रहे पॉवर कंपनी को संजीवनी प्रदान किया। औद्योगिक जगत से मेरा पुराना नाता रहा मैं अच्छे अच्छे लोगों को देखा सब सामने ईमानदार बनते है और पीछे अटैची लेकर चलते है लेकिन पूर्व चेयरमेन में ऐसा नही था उन्होंने निः स्वार्थ भाव से छत्तीसगढ़ के पॉवर सेक्टर को गति दी है। वे अनुभवी होने के साथ साथ सहज सरल ब्यक्तित्व के धनी है।