The duniyadari news.झांसी के थाना उल्दन क्षेत्र के गांव पलरा में करवा चौथ के दिन युवक ने पारिवारिक कलह में घर के अंदर कमरे में ही फांसी लगाकर जान दे दी। पत्नी संगीता का रो-रोकर बुरा हाल है।
करवा चौथ के दिन परिवार के लोग खेत में गए थे। घर में सचिन (25) के साथ उसकी पत्नी संगीता और माता थीं। दोपहर में 12 बजे के करीब सचिन ने दूसरी मंजिल पर जाकर कमरे में फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली।
उसकी पत्नी घर के नीचे करवा चौथ की तैयारी में लगी थी। काफी देर तक सचिन ऊपर से नीचे उतर कर नहीं आया तो पत्नी को चिंता हुई। उसने ऊपर जाकर देखा तो सचिन फांसी के फंदे पर लटक रहा था। यह देखकर वह चीखने लगी।
इसपर आसपास के लोग भी मौके पहुंच गए। परिजन भी खेत से घर पहुंच गए। वह लोग उसे फंदे से उतारकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए। जहां पर डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। बेटे की मौत पर बूढ़ी मां पुक्खन का भी रो-रोकर बुरा हाल हो गया है। उनका कहना है कि बुढ़ापे का सहारा चला गया।
प्रधान सुदीप सिंह ने बताया कि सचिन के पिता ने तीन साल पहले आत्महत्या कर ली थी। इसके बाद सारी जिम्मेदारी सचिन पर ही आ गई थी। वह इकलौता बेटा था। वह खेती के अलावा कुछ काम नहीं करता था। इस पर अक्सर उसका पत्नी से झगड़ा होता रहता था।
करवा चौथ पर भी दोनों में झगड़ा हो गया था। इसपर उसने आत्महत्या कर ली। घटना की जानकारी के बाद पुलिस ने भी मौके पर जाकर छानबीन की। पुलिस का कहना है कि पारिवारिक कारणों की वजह से उसने आत्महत्या कर ली है। सचिन का छह माह का बेटा है।