बटाला। प्यार ना सरहद देखता है ना मजहब ये पंक्ति यहां पूरी तरह सही बैठती है, दरअसल ओडिशा की रहने वाली एक विवाहिता पाकिस्तान में रहते अपने प्रेमी को मिलने के लिए पंजाब के सरहदी कस्बा डेरा बाबा नानक स्थित श्री करतारपुर साहिब कॉरीडोर पर पहुंच गई। उसने पाकिस्तान जाने के लिए बी.एस.एफ. अधिकारियों से सम्पर्क किया।

इस संबंध में डी.एस.पी. डेरा बाबा नानक कंवलप्रीत सिंह एवं एस.एच.ओ. डेरा बाबा नानक अनिल पवार ने बताया कि उनको बी.एस.एफ. के अधिकारियों द्वारा विवाहित लड़की सौंपी गई थी जो पाकिस्तान जाना चाहती थी। उक्त पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जब उस लड़की से पूछताछ की गई तो उसने बताया कि उसका विवाह ओडिशा में हुआ है और उसका एक बच्चा भी है। पिछले कुछ समय से पाकिस्तान में रहते एक व्यक्ति से उसकी सोशल मीडिया के जरिए दोस्ती हो गई। आज वह बिना पासपोर्ट पाकिस्तान जाने के लिए डेरा बाबा नानक स्थित श्री करतारपुर कॉरीडोर में पहुंची थी।

उक्त लड़की अपने साथ बड़ी मात्रा में सोने और चांदी के आभूषण भी लेकर आई थी। पुलिस द्वारा गहनता से जांच-पड़ताल करते हुए लड़की के परिवार के साथ सम्पर्क कर उनको थाना डेरा बाबा नानक में बुलाया गया और आज यहां लड़की व आभूषण परिवार को सौंप दिए गए हैं।