कोरबा। बालको के 4 अधिकारी अपने ही एक अधिकारी के खिलाफ की गई करवाई को लेकर पुलिस जांच के घेरे में आ गए है। दरअसल मामला 2 महीने पहले का बताया जा रहा है। बालकों के टाउनशिप इंचार्ज ए जी एम समीर धर दीवान ने बालको के 4 बड़े अधिकारियों के खिलाफ बालको थाने में एक शिकायत दर्ज करवाते हुए बालको सयंत्र के भीतर उनके साथ गली गलौच करने और जबरन स्टाम्प पेपर पर फर्जी बातों का कबूलनामा लिखवाए जाने की शिकायत की थी।
जानकारी के अनुसार आवेदक समीरधर दीवान ने जबरन स्तीफा के लिए दबाव बनाने को लेकर बालको एडमिन अवतार सिंह ए जी एम एच् आर कपिल मेहता,ए जी एम सेल्स मैनेजर विद्यासागर एवं अनुराग तिवारी पर गंभीर आरोप लगाते हुए बालको थाने में एक शिकायत दर्ज कराई थी। दिए गए पहले नोटिस के बाद बालको थाना प्रभारी ने एक बार फिर शिकायत कर्ता की शिकायत पर संज्ञान लेते हुवे आरोपी अधिकारियों को 160, 91 के तहत नोटिस जारी करते हुवे नियत समय के भीतर अपना पक्ष रखने को कहा है।आवेदक समीर धर दीवान निवासी बालको के द्वारा लिखित आवेदन पेश कर बाताया कि अवतार सिंह ( जी एम ), अनुराग तिवारी हेड बिजनेस एक्सीलेंस एण्ड रोल्ड प्रोडक्ट, विधा सागर असिस्टेंट मैनेजर सिक्योरिटी, कपिल मल्होत्रा ए0जी0एम0 एच0आर0 के द्वारा दिनांक 25-07-2020 को बल पूर्वक कमरे के अंदर लगातार 04 घंटो तक मानसीक रूप से प्रताडित कर अश्लील गाली गलौच कर जबरन स्टाम्प पेपर पर बिना सहमति के हस्ताक्षर कराया गया है । शिकायत पर बालको प्रबंधन के अधिकारियों को नोटिस भेजा गया है नोटिस का उचित जवाब प्राप्त नही होने पर उक्त अधिकारियों के विरूद्ध अपराध पंजीबध कर वैधानिक कार्यवाही की जायेगी।

इस सम्बन्ध में बालको थाना प्रभारी राकेश मिश्रा ने बताया कि टाउनशिप इंचार्ज ए जी एम समीर धर दीवान के लिखित शिकायत के आधार पर बालको प्रबंधन के चार अधिकारियो को नोटिस जारी कर जवाब माँगा है। जाँच में मामला सही पाए जाने पर आपराधिक प्रकरण दर्ज किया जायेगा।