बिहार की जंग का आगाज …महागठबंधन में सीटों पर तालमेल! 144 आरजेडी, 68 कांग्रेस और 29 पर लड़ेगा लेफ्ट

0
141

नई दिल्ली। बिहार में विपक्षी महागठबंधन के बीच सीटों को लेकर तालमेल हो गया है। घटक दलों आरजेडी, कांग्रेस और लेफ्ट के बीच सहमति बन गयी है। सूत्रों के हवाले से जो खबर आ रही है उसके मुताबिक आरजेडी सूबे की 243 सीटों में 144 पर लड़ेगी। जबकि कांग्रेस को 68 सीटें मिली हैं। लेफ्ट के खाते में 29 सीटें गयी हैं। इसमें सीपीआई (एमएल) 19 सीटों पर चुनाव लड़ेगा।

मुकेश साहनी की पार्टी को आरजेडी अपने खाते से सीट देगी। ऐसा कहा जा रहा है। हालांकि अभी आधिकारिक तौर पर इसकी घोषणा नहीं हुई है। माना जा रहा है कि आज या फिर कल में इसको घोषित कर दिया जाएगा। दरअसल पहले चरण के नामांकन की तिथि करीब आ गयी थी जिसके चलते पार्टियों पर दबाव बढ़ गया था।
इसके पहले माना जा रहा था कि महागठबंधन के बीच तालमेल नहीं बन पाएगा। और गठबंधन में शामिल सभी दलों को अलग-अलग चुनाव लड़ना पड़ेगा। इसी कड़ी में सीपीआई (एमएल) ने अपने 30 प्रत्याशियों का नाम घोषित कर आरजेडी पर दबाव बढ़ा दिया था। हालांकि उपेंद्र कुशवाहा की रालोसपा को गठबंधन में शामिल नहीं किया गया है। बताया जा रहा है कि इसके पीछे आरजेडी की अपनी चाल है। उसका मानना है कि कुशवाहा के अलग लड़ने से नीतीश का नुकसान होगा। लिहाजा उसके अलग लड़ने में ही आरजेडी का फायदा है। इसी रणनीति के तहत उसने रालोसपा को गठबंधन में स्थान नहीं दिया।
अब जबकि महागठबंधन में सीटों को लेकर सहमति बन गयी है। तो एनडीए पर दबाव बढ़ गया है। अभी तक उसके घटक दलों के बीच सीटों को लेकर कोई तालमेल नहीं हो पाया है। पासवान की लोकजनशक्ति अलग लड़ने की जिद पर अड़ी हुई है। तो बीजेपी और जदयू के बीच अंदरूनी शीतयुद्ध जारी है। और दोनों अगले चुनाव में बहुमत की स्थिति में अपना-अपना मुख्यमंत्री कैसे बने उसकी फिराक में हैं। और उसी हिसाब शतरंज की बिसात पर गोटियां चली जा रही हैं।