बिलासपुर। आनलाइन ठगो का जाल से भला कोई कैसे बचे , अब मेट्रोमोनी साइड से व्ही ठगी की जा रही है।  मेट्रिमोनी साइट में अपने लिए दुल्हन खोजना 62 वर्षीय बुजुर्ग को महंगा पड़ गया। ठगों ने उन्हें झांसा लेकर 53 हजार रुपये वसूल लिए। पीड़ित की शिकायत पर सरकंडा पुलिस जुर्म दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।
सरकंडा क्षेत्र निवासी 62 वर्षीय बुजुर्ग ने अपनी शादी के लिए पांच साल पहले द इंडिया मेट्रिमोनी साइट में अपना बायोडाटा अपलोड किया था। इसके बाद मेट्रिमोनी की ओर से उनके पास फोन आया था। साइट पर रजिस्ट्रेशन के लिए तीन हजार लिए गए। इसके बाद उनके पास एक काल आया। इसमें उनके लिए जल्दी दुल्हन खोजने की बात कहते हुए अलग-अलग बहानों से 50 हजार और ले लिए गए। इसके बाद भी उनकी शादी तय नहीं हो सकी। ठगी का एहसास होने पर उन्होंने अपने रुपये वापस मांगे। इस पर फोन करने वाले ने उनका काल रिसीव करना बंद कर दिया। इस पर अधेड़ ने सरकंडा थाने में शिकायत की है। इस पर पुलिस ने जुर्म दर्ज कर लिया है।
शहर में चल रहे कई फर्जी मेट्रिमोनी
शहर में कई जगहों पर फर्जी मेट्रिमोनी आफिस चल रहे हैं। यहां कार्यरत लड़कियां पहले बुजुर्गों व अधेड़ को शादी लगाने का प्रलोभन देकर अपने जाल में फंसाती हैं। उन्हें बकायदा युवतियों की फोटो दिखाकर फोन में बात करना शुरू करती हैं। इसके बाद ब्लैकमेल कर रकम ऐंठ ली जाती है। इसमें स्थानीय युवतियों के एकाउंट के बजाए दूसरे लोगों के एकाउंट में रुपये डलवाए जाते हैं। लोकलाज के भय से ऐसे मामलों की शिकायत नहीं होती। इसके कारण इनका धंधा फल-फूल रहा है।