कोरबा।जिले में मेडिकल कॉलेज खोलने की कवायद आरंभ हो चुकी है। इस कड़ी में मेडिकल कॉलेज हेतु विभिन्न स्थानों को चिन्हित किया जा रहा है ।लगभग 5 एकड़ क्षेत्रफल में बने एजुकेशन हब में विभिन्न सुविधाएं भी है, जो कि एक मेडिकल कॉलेज में होनी चाहिए। एजुकेशन हब में मेडिकल कॉलेज खुलने से इसका सीधा लाभ दर्री,बाँकी मोंगरा,कुसमुंडा, बालको,गेवरा,कटघोरा, पाली,पोड़ी उपरोड़ा, सहित आस कोरबा शहर व आस-पास के जिलों को भी प्राप्त होगा। मेडिकल कॉलेज के खुलने से स्वास्थ्य लाभ के साथ व्यापारी वर्ग भी लाभान्वित होगा। कोरबा पश्चिम मेडिकल कॉलेज संघर्ष समिति द्वारा मेडिकल कॉलेज एजुकेशन हब में खोले जाने को लेकर अनवरत प्रयासरत है। यदि प्रशासन द्वारा एजुकेशन हब कही और स्थापित करता है तो आगामी चुनाव को पुर्णतः बहिष्कार किये जाने की बात कहते हुए दर्री वासियों ने प्रण भी लिया।पहली बार दलगत राजनीति से उठकर दर्री में मेडिकल कॉलेज खोलने के लिए सभी राजनीतिक दलों के समर्थक एकजुट हुए है।कोरबा पश्चिम मेडिकल कॉलेज संघर्ष समिति के बैनर तले अपनी मांगों को लेकर उपनगरीय क्षेत्र के नागरिक चरणबद्ध तरीके से आन्दोलन किये जाने कि बात कही है।गौरतलब है कि इस दैरान दर्री क्षेत्र से ,सुनील पटेल,विशाल केलकर,शशि चौकसे,अमिताभ श्रीवास्तव, विकास अग्रवाल,सर्वजीत सिंह,आर डी सिंह,तरुण नायक,अनिल द्विवेदी,सतीश गौतम,अमित उपाध्याय, रीतू सोढ़ी, मनोज अग्रवाल, शंकर माहेष्वरी,नीरज शर्मा,अजय राय सहित बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।