Shweta Tiwari : 500 रुपये की नौकरी से एक करोड़ का इनाम जीतने तक सफर

0
211

टीवी और फिल्मों की मशहूर अभिनेत्री श्वेता तिवारी इस समय टीवी के एक धारावाहिक ‘मेरे डैड की दुल्हन’ में गुनीत सिक्का का किरदार निभा कर सुर्खियां बटोर रही हैं। इस धारावाहिक में उनके साथ अभिनेता वरुण बडोला मुख्य भूमिका में हैं। आज के समय में टीवी के लिए श्वेता तिवारी बहुत बड़ा नाम है लेकिन यहां तक पहुंचने में उन्हें कई चुनौतियां का सामना करना पड़ा है। समय-समय पर उन्होंने टीवी की दुनिया में बड़े किरदारों को निभाकर दर्शकों का दिल जीता। साथ ही ‘बिग बॉस’ जैसे रियलिटी शो को जीतकर उन्होंने खेल की दुनिया में भी अपना परचम लहराया। आज उनके जन्मदिन के मौके पर हम आपको उनकी जिंदगी की कुछ दिलचस्प कहानियां सुनाते हैं।
12 साल की उम्र में पहली नौकरी
श्वेता तिवारी का जन्म 4 अक्टूबर 1980 को उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले में हुआ। श्वेता की पैदाइश सिर्फ प्रतापगढ़ की है, बाकी लगभग सारा बचपन उनका महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में ही गुजरा। यहीं से उन्होंने अपनी पढ़ाई लिखाई भी पूरी की। श्वेता का बचपन से ही पढ़ने के अलावा कला क्षेत्र में बहुत रुझान था। वह अपने स्कूल में भी होने वाले नाटकों में अक्सर भाग लिया करती थीं। यही हाल उनका कॉलेज में भी रहा। श्वेता को अपने पैरों पर खड़ा होने की बहुत जल्दी थी। इसलिए, मात्र 12 साल की उम्र में ही उन्होंने एक ट्रैवलिंग एजेंसी में काम करना शुरू कर दिया था। यहां काम करने के श्वेता को 500 रुपये प्रतिमाह मिलते थे।