रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता अनुराग सिंहदेव ने कोरबा ज़िले के उरगा थाना क्षेत्र के ग्राम बरीडीह में रेत टीले भरभराकर गिरने से उसमें दबकर तीन मासूम बच्चियों की मौत को बेहद दर्दनाक बताते हुए प्रदेश सरकार से इस मामले की पूरी जाँच कराके दोषियों को दंडित करने और पीड़ित परिवारों को पर्याप्त आर्थिक मदद उपलब्ध कराने की मांग की है।

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता  सिंहदेव ने कहा कि तालाब गहरीकरण के काम के दौरान इस बात का ध्यान रखा जाना चाहिए था कि तालाब से निकली भुरभुरी मिट्टी सुरक्षित ज़गह पर डम्प की जाए ताकि कोई अनहोनी न हो। श्री सिंहदेव ने कहा कि वस्तुत: यह रेत खनन के अवैध तरीके का परिणाम है। जिस तालाब का गहरीकरण किया था, उसी के पास से सोन नदी गुजरती है। बारिश के चलते नदी का जलस्तर बढ़ने के कारण इसी तालाब से रेत की चोरी करके बाजार में बेची जाती थी, जिसके कारण तालाब का बांध कमज़ोर हो चला था। तालाब से रेत की चोरी करके इकठ्ठी की गई रेत बेचने के दौरान यह हादसा हुआ और हँसती-खेलती तीन बच्चियाँ इस टीले के गिरने से दबकर मारी गईं। श्री सिंहदेव ने कहा कि एक तो प्रदेशभर में रेत माफिया अवैध रेत खनन और परिवहन कर अपना आतंकराज क़ायम कर रहे हैं, अब इस तरह रेत खनन और चोरी करके निर्दोष लोगों की जान के बी दुश्मन बन गए हैं।