कोरबा ।कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने आज कलेक्टोरेट सभा कक्ष में जिले के सभी अनुविभागीय अधिकारियों, तहसीलदारों सहित अन्य राजस्व अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। कलेक्टर श्रीमती साहू ने बैठक के दौरान सभी राजस्व अधिकारियों से विभागीय कार्यकाज के बारे में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि राजस्व अमले को ईमानदारी और संवदेनशीलता के साथ काम करना चाहिए। कलेक्टर ने राजस्व विभाग से संबंधित भू-अर्जन, भू-बंटवारा, नामांतरण आदि कार्यों को समय-सीमा में पूरा करने के निर्देश बैठक में मौजूद सभी अधिकारियो को दिए। कलेक्टर ने बैठक के दौरान सभी राजस्व अधिकारियों से उनके क्षेत्र से संबंधित समस्याओं को भी जाना और नियमानुसार उनका निराकरण करने के लिए हर संभव सहयोग करने का आश्वासन भी दिया। बैठक में कलेक्टर श्रीमती साहू ने राजस्व अधिकारियों को भू-अर्जन के लिए नियम प्रक्रिया का पालन करने के निर्देश दिए। इस दौरान बैठक में जिला पंचायत के सीईओ एवं प्रभारी अपर कलेक्टर  कुंदन कुमार, एसडीएम कोरबा  सुनील नायक, एसडीएम कटघोरा श्रीमती सूर्यकिरण तिवारी, एसडीएम पोड़ी-उपरोड़ा  संजय मरकाम सहित जिले के समस्त तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार मौजूद रहे।
कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने बैठक के दौरान अतिक्रमण के लंबित प्रकरणों को शीघ्र निपटाने के साथ-साथ यह भी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए कि कोई नया अतिक्रमण न हो। नामांतरण एवं बंटवारे का समय-सीमा में निराकरण किया जाए तथा यह भी सुनिश्चित किया जाए कि लंबित प्रकरण तेजी से निपटाएं जाएं। श्रीमती साहू ने ग्रामीण क्षेत्रों में राजस्व संबंधी प्रकरणों को प्राथमिकता के आधार पर निपटाए जाने के साथ-साथ राजस्ववाद मुक्त गांव की परिकल्पना को साकार करने की बात कही। श्रीमती रानू साहू ने मुख्यमंत्री वृक्षारोपण अभियान को उच्च प्राथमिकता देते हुए सभी राजस्व अधिकारियों को इसकी सफलता सुनिश्चित करने के निर्देश दिये साथ ही मुख्यमंत्री वृक्षारोपण अभियान के लिए बड़े किसानों को प्राथमिकता से चयनित करने को कहा। श्रीमती रानू साहू ने गौठानों के विवादित जमीनों के प्रकरणों को शीघ्र निराकरण करने के भी निर्देश दिए। कलेक्टर ने सभी राजस्व अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे गांव में दिव्यांग बच्चों का चिन्हांकन कर उनके मानसिक एवं शारीरिक स्वास्थ्य सुनिश्चित करने के लिए उचित प्रबंध करें। कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने कोरोना टीकाकरण की भी जानकारी ली और टीकाकरण की दिशा में किये जा रहे प्रयासों की सराहना करते हुए शत-प्रतिशत टीकाकरण सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने राजस्व अधिकारियों को निर्देश दिए कि गरीबों को उच्च प्राथमिकता में रखते हुए विकास परख शासकीय योजनाओं का क्रियान्वयन किया जाए।