The duniyadari news .उत्तर प्रदेश के लखनऊ में हिंदूवादी नेता साध्वी प्राची ने एक बार फिर से विवादित बयान दिया। प्राची ने कहा कि मदरसों में लव जिहाद का पाठ पढ़ाया जाता है और इसके लिए अरब राष्ट्रों से पैसा आता है। उन्होंने सरकार से इसकी जांच की मांग की है। इससे पहले भी उन्होंने लव जिहाद करने वालों को फांसी देने की बात कही थी। प्राची के ताजा बयानों को लेकर फिलहाल सियासत भी तेज हो गई। उनके बयान पर संतों ने ही उनकी निंदा की है। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने साध्वी के बयान को गलत बताते हुए कहा कि उन्हें ऐसा भड़काऊ बयान नहीं देने चाहिए।

गौरतलब है कि साध्वी शनिवार को लखनऊ में थीं। उन्होंने हाल ही में कथित लव जिहाद के सामने आए मामलों पर मीडिया से बात करते हुए कहा कि लव जिहाद मदरसों से फैल रहा है। इसमें अरब राष्ट्रों का लिंक है, जिसकी सरकार जांच कराए। साध्वी ने कहा कि लव जिहाद फैलाने के लिए अरब राष्ट्रों से खुल्लमखुल्ला पैसा आ रहा है, इसलिए यह तेजी से बढ़ रहा है। उन्होंने दावा किया ब्राह्मण, क्षत्रिय, वैश्य और शूद्र की बेटियों के हिसाब से 10 लाख से 25 लाख रुपये तक लव जिहाद के लिए दिए जाते हैं।
साध्वी ने की थी लव जिहादियों के लिए फांसी की मांग
इससे पहले साध्वी प्राची लव जिहाद करने वाले लोगों के लिए फांसी की मांग कर चुकी हैं। निकिता हत्याकांड मामले में प्रदर्शन करते हुए प्राची ने कहा था कि लव जिहादियों को चौराहे पर फांसी दे दी जानी चाहिए। उनकी न कोई अपील हो और न ही कोई सुनवाई हो। वहीं योगगुरु बाबा रामदेव ने भी लव जिहाद करने वाले लोगों को फांसी की सजा देने की मांग की थी। उन्होंने कहा था कि ऐसे लोगों को सरेआम चौराहे पर फांसी दी जानी चाहिए ताकि बाकी लोगों के लिए यह नजीर बन सके।
मस्जिद में हवन करना चाहती हूंः प्राची
साध्वी यहीं नहीं रुकीं। उन्होंने मंदिर में नमाज पढ़ने के मामले को भी षड्यंत्र करार दिया है। प्राची ने कहा कि हमारे मंदिरों को अपवित्र करने का षड्यंत्र चल रहा है। भाईचारा गैंग हिंदुस्तान के अंदर सक्रिय है। ऐसे लोगों से कहूंगी कि सारी मस्जिदों को तोड़कर मंदिरों में परिवर्तित कीजिए और नमाज अदा करिए। उन्होंने आगे कहा, ‘मैं लखनऊ की मस्जिद में बैठकर हवन करना चाहती हूं ताकि हिंदुस्तान के अंदर भाईचारा कायम रहे।’