कोरबा। कहने को तो पहली बार छत्तीसगढ़ में छत्तीसगढ़ियों की सरकार है लेकिन सरकार बनने के बाद स्थानीय लोगो का रोजगार धीरे धीरे प्रभावशाली लोगो के हाथों में जा रहा है। अब वन विभाग का ही ले लीजिए यंहा रायपुर से लेकर प्रदेश के कई जिलों के ठेकेदार काम कर रहे है। इससे स्थानीय लोगो का रोजगार छीनता जा रहा है। कोरबा की जनता कहने लगे है कि यही है छत्तीसगढ़िया सरकार !
वन विभाग में कैम्पा मद से चल रहे निर्माण कार्य कहने को तो विभाग करा रहा हैं, पर असल वन अमला नाम का है औऱ काम नेता नुमा ठेकेदार करा रहे है। प्रभावशाली लोगों के विभाग में ऊपरी पहुंच से काम करने से न सिर्फ स्थानीय लोगो को रोजगार न मिलने की समस्या है बल्कि निर्माण कार्य मे तकनीकी खामियां भी उजागर हो रही हैं।ठेकेदार वन विभाग के अधिकारियों पर दबाव बनाकर मन माफिक बिल बनाकर अपना इतिश्री कर रहे है। प्रदेश में सरकार बनने के बाद स्थानीय रहवासी ,नेता अभिनेता सब को काम मिलने का आस था लेकिन रायपुर से फ़ोन कराकर काम हथियाने वालों से लोकल नेता भी अपने ही सरकार को जमकर कोस रहे है।