रांची। झारखंड पुलिस के पूर्व डीजीपी डीके पांडेय ने रैयती नहीं गैरमजरूआ जमीन खरीदी है। सरकार अब इनके जमीन की जमाबंदी रद करेगी। राज्य सरकार के आदेश पर गठित विशेष जांच दल ने रांची के कांके अंचल स्थित चामा मौजा की विवादित जमीन मामले की जांच पूरी कर सरकार को रिपोर्ट सौंप दी है। जांच रिपोर्ट के अनुसार चामा मौजा में पूर्व डीजीपी डीके पांडेय, उनकी पत्नी पूनम पांडेय सहित 15 लोगों को प्रतिबंधित सूचीवाली गैर मजरूआ जमीन की रजिस्ट्री की गई थी। अब जांच में पुष्टि के बाद सभी जमाबंदी रद होगी। इसके लिए विभाग ने कार्रवाई शुरू कर दी है।