कोरबा। सोशल मिडिया में बालको प्रबंधन की वीआरएस योजना की जमकर विरोध हो रहा है। फेस बुक में ऐक्टू का श्रम जागरुकता अभियान की एक तस्वीर साझा कर बालको में वीआरएस के नाम पर श्रमिकों की प्रतड़ना बंद करने की मांग की गई है।
बालको प्रबंधन ने स्वास्थ्य का हवाला देते हुए स्वैच्छिक सेवानिवृत्त योजना लागु की है। कोविड-19 की परिस्थितियों को देखते हुए योजना में अनेक प्रलोभन दिया गया है। 50 वर्ष से अधिक उम्र के कर्मचारियों को ध्यान में रखकर योजना बनाने की बात कही है लेकिन श्रमिक संघ लगातार इस वीआरएस योजना की खिलाफत कर रहे है। फेस बुक में ऐक्टू का श्रम जागरुकता अभियान की एक तस्वीर साझा कर बालको में वीआरएस के नाम पर श्रमिकों की प्रतड़ना बंद करने की मांग की गई है।