कोरबा। खाली दिमाग शैतान का घर की कहावत तो अपने सुनी होंगी। यह कहावत भाजपा दर्री मंडल के ग्रुप पर फिट बैठता दिख रहा है। सत्ता जाने के बाद खाली बैठे लोग ग्रुप में ज्ञान पेल रहे है और अपना ही किरकिरी करा रहे है। ताजा मामला है ब्राम्हणों को लेकर हुए कमेंट्स का है । भाजपा मण्डल ग्रुप दर्री के ग्रुप मेम्बर दीपक जायसवाल ने ब्राम्हणो पर एक कमेंट्स कर दी फिर क्या था , एक के बाद एक ग्रुप मेम्बर के कमेंट आने लगे , किसी ने कहा सम्मान मांगना नही पड़ता महोदय…तो किसी ने कहा माफी मांगना चाहिए।

भाजपा दर्री मंडल के वाट्सएप्प ग्रुप अब विवादों में घिरता दिख रहा है। कभी अश्लील तस्वीर पोस्ट कर सुर्खियों में रहते है तो कभी बेतुका बयान की वजह से विवादों में रहते है। ताजा मामला ब्राम्हणो को लेकर किये गए कमेंट्स को लेकर है। भारतीय जनता पार्टी पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ जिला महामंत्री दीपक जायसवाल ने वॉट्सअप में चैटिंग कर लिखा ” ब्राम्हण वो जो ब्रम्हचर्य व्रत का पालन करें, उसी का प्रणाम करें जो ब्रम्हचर्य व्रत करें। अन्यथा ब्यर्थ में उनका बेवजह सम्मान देकर प्रणाम ना करें। सम्मान का गलत फायदा उठाते है।” दीपक के इस कमेंट्स के बाद ग्रुप में एक से बढ़कर एक कमेंट्स शुरू ही गए। ग्रुप मेम्बर गोलू पांडेय ने लिखा” ब्राम्हणो का सम्मान सदियों से चला आ रहा है।ब्राम्हण किसी के घर नही जाता सम्मान मांगने , आपकी सोच और छोटी मानसिकता को बदलिए। इसके बाद श्रीधर द्विवेदी ने लिखा ब्राम्हण हमेशा पूज्नीय रहा है जन्म लेने से मारने तक ब्राम्हणो को पूजा जाता है।दीपक को माफी मांगनी चाहिए। इसके बाद दिनेश पाण्डेय ने तो लिखा ” जो ना लगे कलंक हूँ, मैं अनकहा सा अंक हूँ।
मैं सत्य का ही अंश हूँ, मैं ब्राम्हणो का वंश हूँ। मैं ब्राम्हणो का वंश हूँ…
मैं वेद राह पर चला, मैं खेत क्यार में पला।
न साथ वक्त के ढला, मैं पापियों पे डंक हूँ।
ग्रुप में चल रहे कमेंट्स पर भाजपा के पदाधिकारी भी परेशान हो चुके है और चैटिंग करने वालो को समझाइश दे रहे है।