जामताड़ा : साइबर अपराध की दुनिया में सगे भाई, बाप-बेटे की संलिप्तता तो कई बार सामने आ चुकी है, लेकिन एक ऐसा मामला गुरुवार को प्रकाश में आया है, जिसमें बाप- बेटा तो शामिल है ही, दामाद को भी साइबर अपराध में शामिल कर लिया है. मामला करमाटांड़ थाना क्षेत्र से संबंधित है. जहां बाप- बेटे, ससुर-दामाद ने मिलकर उत्तर प्रदेश के अंबेडकर नगर में पदस्थापित सीआईएसएफ के एक हवलदार एसबी सिंह के आरडी खाते से करीब सवा 4 लाख रुपये की ठगी कर ली है.
इस संदर्भ में पुलिस ने बाप- बेटे को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की. वहीं, उसका एक अन्य बेटा और दामाद भागने में सफल रहा है. पुलिस ने करमाटांड़ थाना क्षेत्र के महेशपुर गांव में आरोपी के घर पर छापेमारी कर गिरफ्तारी की है. इस बात का खुलासा एसपी दीपक कुमार सिन्हा ने गुरुवार को साइबर थाना में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान की. बता दे कि साइबर क्रिमिनल कैलाश मंडल एवं शंकर मंडल पुलिस के हत्थे चढ़ गया, जबकि उसका दूसरा बेटा किशोर मंडल और दामाद पवन मंडल भागने में सफल रहा है. गिरफ्तार साइबर क्रिमिनल बाप- बेटे को पुलिस ने जेल भेज दिया है.
साइबर क्रिमिनल किशोर मंडल का है आलीशान मकान
गिरफ्तार कैलाश मंडल का महेशपुर गांव में आलीशान मकान है. इसने लाखों की संपत्ति साइबर अपराध के जरिये अर्जित की है. पुलिस ने गिरफ्तारी के समय इसके पास से 7 लाख 80 हजार रुपये नकद भी बरामद किया है. वहीं, एसपी दीपक कुमार सिन्हा ने बताया कि कैलाश मंडल का दोनों बेटा शंकर मंडल और किशोर मंडल को कंप्यूटर की अच्छी जानकारी है. दोनों बेटे ने बाकायदा कंप्यूटर का डिप्लोमा कोर्स कर रखा है. दोनों बेटे और दामाद के साथ मिलकर कैलाश मंडल ने लाखों की संपत्ति अर्जित कर ली है. उन्होंने बताया कि पुलिस उसकी संपत्ति की जांच करने के साथ ही उसके पुराने इतिहास को भी खंगालने में जुट गयी है.