कोरबा। कोरबा जिला खनिज न्यास संस्थान की शासी परिषद की बैठक आज कलेक्टोरेट सभा कक्ष में हुई। बैठक में वर्ष 2021 के लिए विकास कार्यों की वार्षिक कार्ययोजना का अनुमोदन किया गया। बैठक में कलेक्टर श्रीमती साहू ने जिला खनिज न्यास संस्थान के संचालन से जुड़े केन्द्र सरकार द्वारा स्थापित नए नियमों और प्रावधानों की जानकारी सभी सदस्यों को दी। उन्होंने यह भी बताया कि कोरबा जिला खनिज न्यास संस्थान को औसतन 200 से 230 करोड़ रूपए प्रतिवर्ष मिलते हैं और इसी आधार पर संस्थान के नियमों के अनुसार इस वर्ष के लिए तीन गुना राशि के विकास कार्यों की कार्ययोजना तैयार की गई है। वास्तविक रूप में जैसे-जैसे राशि प्राप्त होती जाएगी वैसे-वैसे कार्यों के लिए प्रशासकीय स्वीकृति एवं राशि जारी की जाएगी।
बैठक में सांसद श्रीमती महंत ने खनिज न्यास मद से जिले में शिक्षा और स्वास्थ्य की बेहतरी के साथ ग्रामीण इलाकों में लोगों की सहुलियतों के लिए ज्यादा से ज्यादा विकास कार्य स्वीकृत करने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि जिले के ग्रामीण इलाकों में स्कूलों की मरम्मत, स्कूलों में आधारभूत सुविधाओं की बढ़ोत्तरी के अधिक से अधिक काम स्वीकृत किए जाएं। श्रीमती महंत ने कहा कि दूरदराज के इलाकों में लोगों को बीमार होने पर ईलाज की बेहतर सुविधा देने के लिए स्वास्थ्य केन्द्रों में संसाधनों की जरूरत जिला खनिज न्यास मद से पूरी की जाए ताकि लोगों को पढ़ने और ईलाज के लिए अच्छी सुविधाएं मिल सके।