IG बने कैरियर गाइड …हो रही चर्चा … फेस बुक वॉल से “सफलता तब मिलती है,जब आप सफल लोगों जैसे काम लगातार करते रहते हैं।”

0
166

सूरजपुर। कोरोना महामारी के बाद से दुनिया बदल गई,इसमें करोड़ों लोगों की नौकरियां चली गई, कई लोग हमें छोड़ कर चले गए है।इस महामारी ने करोड़ों युवाओं, बच्चो और परिवारों के सदस्यों के सपनों को चकनाचूर कर दिया है।लेकिन निराश होने की जरूरत नहीं है।कोई भी लड़ाई निराशा से नहीं जीती जा सकती । हम जहां है जैसे है वहीं से हमें फिर से शुरुआत करनी चाहिए।कुछ दिनों बाद कई एग्जाम होने वाले है, आप लोगों को फिर से सकारात्मक सोच के साथ तैयारी में जुट जाना चाहिए ।
मेहनत सफलता का ईंधन है,इसलिए मेहनत करना जरूरी है
यदि मेहनत नहीं करोगे,तो सफलता की गाड़ी कभी भी प्लेटफॉर्म से आगे नहीं बढ़ पाएगी।इसलिए महत्वाकांक्षी बनिए,महत्वकांक्षा प्लेटफॉर्म और मंजिल के बीच का सफर तय करने में काम आती हैं । सफलता का मूल्य मेहनत है,और काम में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन देने के बाद जीतने और हारने का मौका भी आपके हाथों में है।
संगति अच्छी चुनिए
यदि आप भेड़ियों की संगति करते हैं,तो गुर्राना ही सीखेंगे।और यदि आप गरुड़ों के साथ रहते हैं,तो शिखरों को छूना सीखेंगे।आयना तो आदमी का केवल चेहरा दिखाता है मगर उसकी असली पहचान तो उसके चुने गए दोस्तों से होती है।
जुझारू बनिए
जुझारू लोग वहीं से अपनी सफलता की शुरुवात करते हैं, जहां दूसरे लोग हार मान लेते हैं। इसलिए उस पत्थर तोड़ने वाले की तरह बनिए, जो चट्टान पर लगातार वार करता है और चट्टान के दो टुकड़े कर देता है। आपका जुझारू होना जरूरी है।
जुनून जरूरी है
जुनून का होना सफलता की कुंजी है, क्योंकि यह एक ऐसा गुण है, जो आपके लिए सफलता के द्वार खोल देता है और हर चीज को संभव बना देता है,जुनून होने पर सामान्य व्यक्ति भी शिखर पर पहुंच सकता है। यानी सफलता इस बात पर निर्भर नहीं करती है कि आप क्या करते हैं और क्या प्राप्त करते हैं, बल्कि इस बात पर ज्यादा निर्भर करती हैं की आपके अंदर जुनून कितना है l