कोरबा। संवेदना परिवार ने फिर से लेमरू गांव के देवपहरी पंचायत के जामभाटा ग्राम मे जाकर वहां के पिछले बार की जो कमिया नज़र आये उसको कुछ हद तक दूर करने का प्रयास किया है क्योंकि वहां की सभी चीजों को एकसाथ पूरा नहीं किया जा सकता है। संवेदना का काम ही नहीं करती बल्कि वहां के ग्राम वासी के विश्वास और उनके जीवन स्तर में सुधार लाने का प्रयास कर रहे है। वनांचल के  महिला , पुरुष  व लड़कियों को समान वितरण किया।
इस बार संवेदना परिवार ने सबसे पहले वहां के लोगो को सनेटारज़ किया एवम मास्क बाट कर कार्यक्रम किया शुरुआत की। कोरवा ग्रामवासियो के छोटे और बड़े सभी को चप्पल पुरषों को जूते उनके पैरो को मे पहना कर दिए एवम नवरात्री होने के कारण वहां के छोटे लड़कियों को नवसृगार के किट बना कर दिए एवम दैनिक जरुरत के सामान जैसे सर्फ़, साबुन, तेल, शैम्पू, कपडे धोने का साबुन, बोरोप्लस क्रीम, बिस्कुट, ब्रेड, कुकीज़ मिक्सचर दिए.. और उनको पानी छालेने के लिए छलनी उनके स्वास्थ्य से सम्बंधित बीमारियों के ईलाज और फोड़े पुंसी दाग़ जैसे को ठीक करने के क्रीम दिए..
इस बार के कार्यक्रम के लिए हमें आर्थिक रूप से सहयोग करने वाले श्याम गोयल, श्रीमती क्रांति चंद्रा जी, आभा नामदेव, बद्री अग्रवाल पल्लवी जी. नीलम, शोभा, शारदा लोगो ने आर्थिक रूप से अच्छा सहयोग किये है।
इस नेक कार्य को करने के लिए संवेदना परिवार के सदस्य श्रीजीत नायर, ( विकी सारथी -सर्प मित्र ) नागेश चंद्रा, झुलेश्वेर महंत, देवा बंजारे, परम साहू, प्रवीण, प्रकाश, एवम महिलाओ से स्नेह लता, रानी मानिकपुरी, पुष्पा, नीलम लकड़ा, रीत, शोभा चौहान, शारदा, पूनम.. इन सबका बहुत अच्छा सहयोग रहा। इस कार्यक्रम को संवेदना को गठन करने वाले श्रीजीत नायर का महत्वपूर्ण कार्य रहा जो की सभी सदस्यो को एक परिवार मानते है।