Monday, April 22, 2024
Homeकोरबाअचानक शहर में हो गया बलवा, पुलिस ने ऐसे हालात पर किया...

अचानक शहर में हो गया बलवा, पुलिस ने ऐसे हालात पर किया काबू, कोरबा पुलिस ने बलवा ड्रिल का अभ्यास

कोरबा। शहर में अचानक पुराने विवाद को लेकर दो पक्षों का झगड़ा बलवा में बदल गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने आनन फानन में सख्ती से कार्यवाही करते हुए समय रहते हालात को काबू में कर लिया। जीहां ये हकीकत नहीं दरअसल कोरबा पुलिस ने बलवा ड्रिल का अभ्यास में इसका प्रदर्शन किया।

शनिवार को पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल के निर्देश पर पुलिस लाइन परेड ग्राउंड में बलवा ड्रिल परेड का रिहर्सल किया गया। इस अवसर पर ​जिले के पुलिस कप्तान स्वयं उपस्थित रहे। बलवा ड्रिल का नेतृत्व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक वर्मा के द्वारा किया गया।

इस अवसर पर बलवा ड्रिल के महत्व को समझाते हुए पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल ने बताया कि समाज मे शांति व्यवस्था बनाए रखने एवम कानून व्यवस्था की स्थिति से निपटने के लिए कई बार पुलिस को बल का प्रयोग करना आवश्यक हो जाता है। बल प्रयोग कब और किस सीमा तक किया जाना चाहिए ,यह घटना की परिस्थितियों पर निर्भर करता है।

पुलिस बल को समझाइश देते हुए एसपी ने बताया कि मानवाधिकारों की रक्षा करते हुए कानून और व्यवस्था बनाए रखने के लिए बल प्रयोग कब और किन परिस्थितियों एवं किस सीमा तक किया जाना चाहिए , इसकी जानकारी सभी पुलिस अधिकारियों एवं कार्यपालक दंडाधिकारियों को स्पष्ट होना चाहिए। ताकि मानव अधिकारों की रक्षा करते हुए कम से कम बल प्रयोग कर कानून व्यवस्था की स्थिति से निपटा जा सके।

पुलिस लाइन परेड ग्राउंड में बलवा परेड का नेतृत्व अभिषेक वर्मा के द्वारा किया गया, कार्यपालिक दंडाधिकारी दंडाधिकारी के रूप में अतिरिक्त कलेक्टर सुनील नायक,एसडीएम हरि शंकर पैकरा, तहसीलदार पंचराम सलामे सहित अन्य कार्यपालिक दंडाधिकारी उपस्थित रहे।


रक्षित निरीक्षक अनथ राम पैकरा द्वारा कानून व्यवस्था में लगे बल के कमांडर की भूमिका निभाई गई। दंगा फसाद कर रहे बलवाइयों को पहले चेतावनी देकर बिखर जाने का आदेश दिया गया ,इसके पश्चात वाटर केनन का इस्तेमाल, अश्रु गैस का प्रयोग, बेंत एवम लाठी का प्रयोग कर दंगा समाप्त करने का प्रयास किया गया। सभी प्रयास असफल हो जाने पर अंत में गोली चालन का प्रदर्शन किया गया। दंगा समाप्त होने के पश्चात घायलों को अस्पताल पहुंचाने, उनका उपचार कराने एवं संपूर्ण घटनाक्रम का विस्तृत प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया।

इस अवसर पर वरिष्ठ अधिकारियों के साथ-साथ ट्रैफिक डीएसपी शिवचरण परिहार, रक्षित निरीक्षक अनथराम पैकरा, सूबेदार भुनेश्वर कश्यप सहित जिले के सभी थाना चौकी प्रभारी उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments