Friday, March 1, 2024
Homeकोरबाइधर युंका नेता ने रेत माफियाओं के खिलाफ खोला मोर्चा ...उधर रात...

इधर युंका नेता ने रेत माफियाओं के खिलाफ खोला मोर्चा …उधर रात भर नदी में हुआ अवैध उत्खनन , अब छत्तीसगढ़िया क्रांति सेना ने प्रशासन पर तस्करो को संरक्षण देने का लगाया आरोप…

कोरबा। युवा कांग्रेस जिला कोरबा के जिला उपाध्यक्ष मधु सूदन दास ने इधर जिलाधीश के नाम ज्ञापन सौप कर रेत खदान एवं सम्बंधित अधिकारीयो के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग की , तो दूसरी तरफ रेत तस्कर राताखार , बरमपुर और भिलाईखुर्द से रात भर अवैध करते रहे। अवैध उत्खनन की जानकारी मिलते ही अब छत्तीसगढ़िया क्रांति सेना ने जिला प्रसाशन और पुलिस पर तस्करो को संरक्षण देने का आरोप लगाया है।

बता दें कि रेत तस्करों के आगे प्रशासन किस तरह नतमस्तक है इसका अंदाजा राताखार और बरमपुर रेत घाट से रात के अंधेरे में हो रहे उत्खनन से लगाया जा सकता है । बीती रात रात भर रेत तस्कर नदी का सीना छल्ली कर रेत उत्खनन करते रहे और पुलिस के अधिकारी चैन की बंशी बजाते रहे। शहर के मुख्य रेत घाट पर लगे प्रतिबंध के बीच रेत तस्करों की चांदी हो गई है। इसका फायदा शहर के एक गिट्टी कारोबारी भी जमकर उठा रहे हैं। प्रशासन के नाक निचे हो इस अवैध उत्खनन से न सिर्फ जिला प्रसाशन की छवि धूमिल की है बल्कि शिकायत के बाद मुख्य मार्ग में फर्राटे भर वाहनों पर कार्रवाई न होने से सवेदनशील सीएसईबी पुलिस के साख में भी बट्टा लग रहा है। सूत्रों से मिली जानकारी की माने तो गुरुवार की रात राताखार, बरमपुर और भिलाईखुर्द से रात भर अवैध उत्खनन चलता रहा लेकिन जवाबदेही अधिकारी शिकायत के बाद भी मौन होकर तस्करो को संरक्षण प्रदान करते रहे। शहर में चले रहे अवैध उत्खनन पर चुप्पी तोड़ते हुए छत्तीसगढ़िया क्रांति सेना ने प्रशासन और पुलिस की कार्य प्रणाली पर सवाल उठाया है और सोशल मिडिया में लिखा है कि रेत तस्करो से एक कांट्रेक्ट के तहत निश्चित रकम लिया जा रहा है। यही वजह है कि इन रेत माफियाओ पर कार्रवाई करने से आलाधिकारीयो के हाथ काँप रहे है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments