Thursday, May 23, 2024
Homeदेशकपल के पास मिले 27,000 करोड़ रुपये के लूटे हुए Bitcoin

कपल के पास मिले 27,000 करोड़ रुपये के लूटे हुए Bitcoin

Cryptocurrency Couple, BitCoin: क्रिप्‍टो करंसी (Cryptocurrency) की एक बड़ी लूट का मामला सामने आया है. जिसमें पति और पत्‍नी पर ये आरोप है कि उन्‍होंने अरबों रुपये मूल्य के बिटकॉइन की मनी लॉन्डरिंग की. खास बात ये है कि ये पति और पत्‍नी खुद को ‘वॉल स्‍ट्रीट का मगरमच्‍छ’ कहते थे. जांच टीम ने 27,000 करोड़ से ज्‍यादा के बिटक्‍वाइन जब्‍त किए हैं. पति-पत्नी अमेरिका के मैनहेट्टन के रहने वाले हैं.

पूरा मामला क्‍या है, आपको समझा देते हैं. अमेरिकी मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक- 34 वर्षीय Ilya ‘Dutch’ Lichtenstein और 31 वर्षीय Heather R. Morgan की गिरफ्तारी इस महीने हुई है. इन दोनों पर आरोप है कि इन्होंने अवैध बिटकॉइन को अपनी मेहनत की कमाई बताकर खर्च किया. असल में 2016 में Bitfinex करेंसी एक्‍सचेंज को हैक कर अरबों रुपये मूल्य के क्रिप्टो करेंसी चुरा लिए गए थे.

क्‍या गड़बड़झाला हुआ?
जांचकर्ताओं ने बताया कि ये 6 साल पुराना केस है. जिसमें क्रिप्‍टो करंसी गायब हो गई थी. इस मामले में जांच टीम में शामिल अधिकारियों ने करीब 37 हजार रुपए के वॉलमार्ट गिफ्ट कार्ड की जांच शुरू की थी. जो एक रूस के रजिस्‍टर्ड ईमेल पर भेजा गया था. जांच में सामने आया कि ये ट्रांजैक्‍शन न्‍यूयॉर्क में मौजूद क्‍लाउड सर्विस प्रोवाइडर के आईपी एड्रेस से किया गया.


बाद में जांच टीम ने इसका कनेक्‍शन Ilya ‘Dutch’ Lichtenstein से निकला. कोर्ट में जो दस्‍तावेज सामने आए हैं, उसके मुताबिक, वॉलमार्ट के फोन ऐप से ये गिफ्ट कार्ड रीडिम हुआ. इनमें से तीन बार जो खरीद हुई वह Heather R. Morgan के नाम से हुई. उनमें एक ईमेल उनका भी था. इसमें रजिस्‍टर्ड पता वॉल स्‍ट्रीट अपार्टमेंट था. इस कपल पर आरोप है कि इन लोगों ने कई तकनीक का उपयोग कर बिटक्‍वाइन को वैध बनाया. इसके लिए उन्‍होंने कई नकली आईडी और फर्जी अकाउंट क्रिएट किए.

पांच साल के अंदर हुआ ऐसा
जांच में सामने आया है कि पिछले पांच सालों के अंदर किसी ने कथित रूप से 119,754 अवैध बिटक्‍वाइन (Bitcoin) का Bitfinex वेबसाइट पर ट्रांजैक्‍शन किया. इसके बाद इस डिजिटल फंड को Lichtenstein के digital wallet में ट्रांसफर कर दिया गया.

1 लाख से ज्‍यादा बिटक्‍वाइन चुराए गए
Bitfinex एक क्रिप्‍टो करंसी एक्‍सचेंज है. जो ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड में रजिस्‍टर्ड है. अगस्‍त 2016 में हैकर्स ने सिक्‍योरिटी में सेंध लगाते हुए 1 लाख 20 हजार बिटक्‍वाइन चुरा लिए थे. उसकी तब कीमत 70 मिलियन अमेरिकी डॉलर ( 5 अरब 24 करोड़ से ज्‍यादा, वर्तमान में ), तब एक बिटक्‍वाइन की कीमत 600 डॉलर (44 हजार के करीब) थी. आज एक बिटक्‍वाइन की कीमत 44,295.60 डॉलर (33 लाख रुपए से भी ज्‍यादा) है. जांच टीम ने बताया कि 2016 के हैक से संबंधित 27 हजार करोड़ रूपए से ज्‍यादा के बिटक्‍वाइन जब्‍त किए गए

हैं.

 

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments