Sunday, June 16, 2024
Homeपुलिसकोरबा: छत्तीसगढ़ पुलिस का "अभिव्यक्ति एप" महिलाओं के लिए होगा सार्थक, कोरबा...

कोरबा: छत्तीसगढ़ पुलिस का “अभिव्यक्ति एप” महिलाओं के लिए होगा सार्थक, कोरबा पुलिस ने महिलाओं को किया जागरूक

कोरबा। छत्तीसगढ़ पुलिस ने महिलाओं की सुरक्षा को लेकर नई तकनीक पेश की है जो महिलाओं के लिए बेहद खास साबित होगी। सभी जिलों की पुलिस इस एप की जानकारी महिलाओं तक पहुचा रही है।

 

इसी कड़ी में मंगलवार को कोरबा पुलिस अधीक्षक यू उदय किरण के निर्देशन पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक वर्मा के नेतृत्व में नगर पुलिस अधीक्षक कोरबा विश्वदीप त्रिपाठी एवं नगर पुलिस अधीक्षक दर्री रॉबिंसन गुड़िया व अनुविभागीय अधिकारी पुलिस कटघोरा ईश्वर प्रसाद त्रिवेदी के मार्गदर्शन में हमराह स्टाफ द्वारा बालको प्लांट,सराफा दुकान, सरकारी दफ्तर, विभिन्न प्रतिष्ठान व ज्वेलरी शॉप सहित विभिन्न स्थानों में जाकर महिलाओं को “अभिव्यक्ति एप” के बारे में जानकारी दी। महिलाओं ने एप के बारे में जानकारी प्राप्त कर पुलिस को धन्यवाद दिया।

0.लोकेशन के हिसाब से SOS का बटन दबाते पुलिस तक पहुंच जाएगी सूचना

बता दें कि छत्तीसगढ़ पुलिस ने महिलाओं, बच्चियों की सुरक्षा और शिकायतों का समाधान करने के लिए ऐप बनाया है। 2 फीचर्स से लैस ऐप का नाम है ‘अभिव्यक्ति’. नए साल पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने एप का शुभारंभ कर महिलाओं को खास गिफ्ट दिया। लोकेशन के हिसाब से SOS का बटन दबाते ही यूजर के पास तुरंत पुलिस सहायता पहुंचेगी। ऐप के माध्यम से महिलाएं कहीं से भी शिकायत पुलिस के पास दर्ज करा सकेंगी। वर्तमान में एसओएस प्रणाली डायल 112 के संचालित जिलों में लागू किया गया है। शिकायत प्रणाली का संचालन छत्तीसगढ़ के समस्त जिलों में होगा।

 

“अभिव्यक्ति” ऐप से प्राप्त शिकायतों को संबंधित थानों से समन्वय बनाकर समाधान करना सुनिश्चित होगा। वर्तमान में महिला सेफ्टी सेल पुलिस अधीक्षक कार्यालय से संचालित हो रहा है। इस ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। बलात्कार, छेड़छाड़, घरेलू हिंसा, मारपीट, टोनही प्रताड़ना, दहेज प्रताड़ना, अपहरण, बाल विवाह, मानव तस्करी, एसिड अटैक, लैंगिक अपराध, साइबर अपराध शामिल किए गए हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments