रायपुर। छत्तीसगढ़ के कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। इस बीच शनिवार को प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया से फोन पर बात की। इस बातचीत में स्वास्थ्य मंत्री ने ओमिक्रॉन के मामलों को लेकर चिंता व्यक्त की।

स्वास्थ्य मंत्री ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को बताया कि छत्तीसगढ़ में हम अब भी ओमिक्रॉन संक्रमण की जांच के लिए भुवनेश्वर स्थित जीनोम सिक्वेंसिंग लैब पर निर्भर हैं। चर्चा के दौरान छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री ने केंद्रीय मंत्री से प्रदेश में जीनोम सिक्वेंसिंग लैब की स्थापना करने के लिए अनुमति प्रदान करने को कहा।

छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि वर्तमान में ओमिक्रॉन संक्रमण की जाँच करने के साथ ही जीनोम सिक्वेंसिंग लैब कोरोना के उपरांत आगे भी प्रदेश के लिए महत्वपूर्ण सिद्ध होगी। जिसपर प्रतिक्रिया देते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने इस विषय पर जल्द ही निर्णय लेने की बात कहते हुए आश्वस्त किया। इसके साथ ही केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री व प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री के बीच कोरोना के बढ़ते मामलों, राज्य में टीकाकरण की स्थिति समेत अन्य महत्वपूर्ण विषयों पर विस्तृत चर्चा हुई।

  • RO12618-2