Sunday, May 26, 2024
Homeछत्तीसगढ़छत्तीसगढ़ शीतलहर की चपेट में, बैकुंठपुर में सबसे ज्यादा ठंडा, जानें मौसम...

छत्तीसगढ़ शीतलहर की चपेट में, बैकुंठपुर में सबसे ज्यादा ठंडा, जानें मौसम का हाल

रायपुर। छत्तीसगढ़ में फरवरी के दूसरे सप्ताह तक कड़ाके की ठंड पड़ने का अनुमान है। प्रदेश का उत्तर और दक्षिणी ​क्षेत्र में शीत लहर की स्थिति बन गई है। जगदलपुर ,दुर्ग-बिलासपुर और सरगुजा संभाग के कई जिलों में शीतलहर चालू हो गई है। शुक्रवार को राजधानी रायपुर के चार अलग-अलग हिस्सों में 8.5 डिग्री से 11.1 डिग्री सेल्सियस तक न्यूनतम तापमान दर्ज हुआ है।

रायपुर मौसम विज्ञान केंद्र के विज्ञानी एचपी. चंद्रा ने बताया, पिछले 24 घंटे से लगातार उत्तरी ठंडी हवा आ रही है। इसकी वजह से प्रदेश में ठंड का प्रकोप बढ़ा है। शुक्रवार को बैकुंठपुर में न्यूनतम तापमान 5 डिग्री सेल्सियस मापा गया। यह प्रदेश का सर्वाधिक ठंडा स्थान रहा है।

एक दिन में सर्वाधिक चार डिग्री की गिरावट जगदलपुर में मापी गई है। जगदलपुर में न्यूनतम तापमान 8.7 डिग्री सेल्सियस मापा गया है। दिन के तापमान में भी पांच डिग्री या उससे अधिक गिरावट दर्ज हाेने की वजह से कोल्ड डे की स्थिति बनी है। दुर्ग, बिलासपुर और सरगुजा संभाग में ऐसी स्थिति बनी हुई है।

मौसम विज्ञानी एच.पी. चंद्रा ने बताया, 29 जनवरी से कोल्ड डे की स्थिति खत्म होने की संभावना है, लेकिन आने वाले 8 दिनों तक ठंड का असर रहेगा। वहीं कम से कम अगले दो दिनों तक शीतलहर की स्थिति बनी रहने की संभावना है। बताया जा रहा है, ग्रामीण और अपेक्षाकृत कम आबादी और कम औद्योगिक गतिविधियों वाले इलाकों में इस ठंड का असर फरवरी के पहले सप्ताह तक बना रहेगा। उसके बाद मौसम गर्म होगा।

प्रदेश में सामान्य तौर पर न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे रहने और लगातार दूसरे दिन सामान्य से 4-4.5 डिग्री सेल्सियस से नीचे तापमान होने की स्थिति को शीतलहर कहते हैं। इसमें गलन जैसी ठंड रहती है। फिलहाल प्रदेश के अधिकतर इलाकों में ऐसे ही हालात हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments