Saturday, April 13, 2024
Homeछत्तीसगढ़छत्तीसगढ़: 32 स्कूलों को मिलेगा उत्कृष्ट विद्यालय का दर्जा, रायपुर से 4...

छत्तीसगढ़: 32 स्कूलों को मिलेगा उत्कृष्ट विद्यालय का दर्जा, रायपुर से 4 बड़े स्कूलों का चयन

रायपुर। छत्तीसगढ़ में स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूलों के बाद अब हिंदी मीडियम में ही बच्चों को क्वालिटी एजुकेशन देने के लिए प्रदेश भर के 32 सरकारी हायर सेकेंडरी स्कूलों को उत्कृष्ट स्कूलों में बदला जाएगा।
छत्तीसगढ़ शासन की ओर से इसकी सूचना सभी जिलों को भेज दी गई है। उन्हें स्कूलों का चयन कर उसे जल्द ही स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी स्कूलों की तरह ही तैयार करने के लिए कहा गया है।
राजधानी में इसके लिए चार बड़े सरकारी स्कूलों का चयन किया गया है। जिन सरकारी स्कूलों का चयन किया गया है उनमें जेएन पांडेय स्कूल, दानी गर्ल्स स्कूल, मायाराम सुरजन स्कूल और माधवराव सप्रे स्कूल शामिल हैं। इसके अलावा तकरीबन हर जिला मुख्यालय के प्रमुख सरकारी हायर सेकेंडरी स्कूल को उत्कृष्ट स्कूल बनाने के लिए चयनित किया गया है।
इन्हें आने वाले सत्र से ही उत्कृष्ट हिंदी स्कूलों के रूप में खोला जाएगा। इन स्कूलों में हिंदी माध्यम से बच्चों को उच्च गुणवत्ता की शिक्षा दी जाएगी। इससे पहले राज्य सरकार ने पिछले साल प्रदेश में 171 स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट अंग्रेजी स्कूल शुरू किए हैं। इन स्कूलों में 74 हजार अंग्रेजी तथा 60 हजार हिंदी माध्यम से बच्चे पढ़ रहे हैं।
ये अंग्रेजी स्कूल भी योजना में शामिल
बताया गया है कि हिंदी माध्यम के जिन स्कूलों को इससे पहले अंग्रेजी माध्यम में अपग्रेड किया गया है उनमें पढ़ने वाले हिंदी माध्यम के बच्चों को भी उच्च स्तर की शिक्षा दी जा रही है। इसमें रायपुर जिले के अरुंधति देवी स्कूल आरंग में हिन्दी मीडियम के 439 बच्चे, रायगढ़ के घरघोड़ा में 558 तथा सूरजपुर के भैयाथान में 428 हिन्दी मीडियम के बच्चे पढ़ाई कर रहे हैं। उनमें हिंदी और अंग्रेजी माध्यम के शिक्षकों के पद स्वीकृत किए गए हैं। इसी तरह जिन अंग्रेजी स्कूलों में हिंदी माध्यम के बच्चे ज्यादा हैं, वहां पर उत्कृष्ट हिंदी स्कूल शुरू किए जाएंगे।
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments