Sunday, May 26, 2024
Homeदेशपंजाब में धार्मिक स्थलों का सौहार्द बिगाड़ने वाले गिरोह के 3 सदस्य...

पंजाब में धार्मिक स्थलों का सौहार्द बिगाड़ने वाले गिरोह के 3 सदस्य गिफ्तार, जानें कहां से जुड़े हैं तार

0बेअदबी केस,पंजाब सरकार,3 सदस्य गिफ्तार, स्वर्ण मंदिर, गुरु ग्रंथ साहिब

लुधियाना। पंजाब में धार्मिक स्थलों का सौहार्द बिगाड़ने वाले गिरोह के 3 सदस्यों को मोगा पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उनके पास से 2 ग्रेनेड, 2.9 एमएम पिस्टल, एक मैगजीन और 18 जिंदा कारतूस बरामद किए गए हैं। इसकी जानकारी लुधियाना ग्रामीण SSP चरणजीत सिंह सोहल ने दी है।

कैसे हुई गिरफ्तारी

पुलिस को गांव चुगांवा के पास के चेकपोस्ट पर एक काले रंग की संदिग्ध पिकअप गाड़ी दिखी। इस गाड़ी का नंबर PB04 AC 2831 था। जब पुलिस ने उन्हें रुकने को कहा तो ड्राइवर ने स्पीड बढ़ा ली और पुलिस पर गाड़ी चढ़ाने की कोशिश की। जिसके बाद बैरिकेडिंग कर पुलिस ने गाड़ी रोक ली। इस दौरान गाड़ी में बैठे लोगों ने पुलिस पर पिस्टल तान दी और हैंडग्रेनेड पकड़ लिया। जिसके बाद पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए तीनों को पकड़ा और उनके हथियार जब्त कर लिए।

पुलिस को हथियार मिले

तीनों युवकों को पकड़ने के बाद पुलिस ने जब वाहन की तलाशी ली तो उसमें हथियार मिले। पुलिस के हाथ 2 ग्रेनेड, 2 पिस्टल, एक मैगजीन और 18 जिंदा कारतूस लगे। शुरुआती जांच में पता चला है कि ये तीनों युवक धार्मिक स्थलों को निशाना बनाने की फिराक में थे। इनका मकसद धार्मिक सौहार्द बिगाड़ना था। ग्रामीण SSP चरणजीत सिंह सोहल ने इसकी विस्तृत जानकारी दी।

कनाडा से जुड़े हैं तार

SSP चरणजीत सिंह सोहल ने बताया कि तीनों के आरोपियों के तार कनाडा से जुड़े हैं। उनके संबध कनाडा के अर्शदीप सिंह डाला उर्फ अर्श डाला से हैं। हाल ही में अमृतसर में हुए टिफिन बम विस्फोट में इन तीनों में से एक आरोपी नामजद है। उसका नाम गुरप्रीत सिंह उर्फ गोपी है।

SSP ने बताया कि इन तीनों पर केस दर्ज कर लिया गया है। इनको अदालत में पेश किया जाएगा। जहां से रिमांड मिलने पर तीनों से पूछताछ की जाएगी। पुलिस का कहना है कि तीनों से पूछताछ में कई अहम खुलासे हो सकते हैं। पुलिस यह भी पता लगाने की कोशिश कर रही है कि वे कहां के रहने वाले हैं और उनकी और क्या-क्या प्लानिंग थी।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments