Sunday, June 16, 2024
Homeछत्तीसगढ़सीजी न्यूज: शराब घोटाला पर कांग्रेस बीजेपी आमने सामने...सीएम बोले. चुनाव नजदीक...

सीजी न्यूज: शराब घोटाला पर कांग्रेस बीजेपी आमने सामने…सीएम बोले. चुनाव नजदीक इसलिए सरकार को बदनाम करने ईडी रच रही साजिश, अरुण साव ने कहा.शराबबंदी का वादा कर किया शराब घाेटाला

रायपुर/बिलासपुर। छत्तीसगढ़ में कथित शराब घाेटाला को लेकर राजनीति गरमा गई है। बता दें कि ED की ओर से जारी प्रेस रिलीज 2 हजार करोड़ के शराब घोटाले की बात सामने आई है।
छत्‍तीसगढ़ में दो हजार करोड़ के शराब घोटाले को लेकर मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल ने मीडिया से बातचीत में कहा, जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आ रहे हैं, राज्य सरकार को बदनाम करने के लिए ईडी के जरिए साजिश रची जा रही है। यह (शराब) नीति भाजपा सरकार ने 2017 में बनाई थी। 2017-18 में आबकारी मद से 3900 रुपए करोड़ की प्राप्ति हुई। हमारे शासनकाल में यह बढ़कर 6000 रुपए करोड़ हुआ।

मुख्‍यमंत्री ने कहा, सीएजी तो भारत सरकार का विभाग है। सीएजी ने छत्तीसगढ़ सरकार के आबकारी विभाग को क्लीनचिट दी है। जब राजस्व में 1.5 गुना से अधिक वृद्धि हो गई तो ईडी का आरोप तो वैसे ही असत्य साबित हो जाता है। सीएम बघेल ने कहा, ईडी द्वारा लगाए गए आरोप मनगढ़ंत हैं।

0.शराबबंदी का वादा कर शराब घाेटाला किया : अरुण साव

छत्तीसगढ़ भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव ने प्रदेश सरकार पर बड़े पैमाने पर गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए कहा, छत्तीसगढ़ में अंडर-वर्ल्ड से भी खतरनाक शराब घोटाला हुआ है। कांग्रेस के लिए सरकार शुरू से ATM का काम कर रही है। शराब बंदी की घोषणा के बाद भी सरकार अपने वादे से मुकर रही है। उन्होंने कहा शराब बेचकर बड़े पैमाने पर गड़बड़ी की है।

साव ने कांग्रेस सरकार पर हमला बोलते हुए कहा, इस सरकार को अब बने रहने का अधिकार नहीं है। क्योंकि, उन्होंने न सिर्फ जनता के साथ धोखा किया है। बल्कि, बड़े पैमाने पर भ्रष्ट्राचार किया है। उन्होंने इस घोटाले की सुनवाई फास्ट कोर्ट में कराने की मांग की है। ताकि, सभी जिम्मेदार और दोषियों को शीघ्र सजा होनी चाहिए।

अरुण साव ने कहा, नकली शराब की जानकारी पूरे प्रदेश की जनता को है। बिना टैक्स के 800 दुकानों में पहुंचाई गई। भाजपा पहले से ही कहती रही है कि छत्तीसगढ़ सरकार में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार हो रहा है। शराब के अवैध कारोबार में संगठित गिरोह है। जिसमें X ब्यूरोकैट भी मदद कर रहे हैं। इस पूरे मामले में राज्य सरकार को इस घोटाले पर स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments