Thursday, April 25, 2024
HomeकोरबाKorba जिला प्रदेश में अग्रणी.. श्रमिकों की बढ़ी सुविधाएं, देशांतर और...

Korba जिला प्रदेश में अग्रणी.. श्रमिकों की बढ़ी सुविधाएं, देशांतर और अक्षांतर के साथ अपलोड से बढ़ी पारदर्शिता

कोरबा। महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम अंतर्गत नैशनल मोबाईल मॉनीटरिंग सिस्टम ऐप के माध्यम से कार्यस्थलों पर श्रमिकों की उपस्थिति दर्ज करने में कोरबा जिला राज्य में प्रथम स्थान पर है. इससे मनरेगा के कार्यो में पारदर्शिता,जवाबदेही बढ़ने के साथ ही श्रमिकों की सुविधाएं बड़ी हैं.

वित्तीय वर्ष 2023 -24 में 16 फ़रवरी 2024 तक जिले में 10526 कार्यों में से 10500 कार्यों का एनएमएमएस किया गया है जिससे 99.8 प्रतिशत की उपलब्धि हासिल की है. संबित मिश्रा मुख्य कार्य पालन अधिकारी जिला पंचायत कोरबा के निर्देशानुसार जिले की सभी ग्राम पंचायतों में मनरेगा के कार्यस्थलों पर रोजगार सहायक एवं मेट के द्वारा मोबाईल से श्रमिकों की उपस्थिति एनएमएमएस ऐप के माध्यम से दर्ज की जा रही है. सभी ग्राम पंचायतों में 16 फ़रवरी तक 79421 मस्टर रोल में से 79261 मस्टर रोल के श्रमिकों की उपस्थिति एनएमएमएस के माध्यम से दर्ज की गयी है जो कि 99.8 प्रतिशत है.

उल्लेखनीय है कि जिले में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम के कार्यों को और पारदर्शी तथा जवाबदेह बनाने के लिए केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय ने राष्ट्रीय मोबाइल निगरानी सॉफ्टवेयर एप (एनएमएमएस) विकसित किया है.

इस एप के माध्यम से योजना के कार्यस्थलों पर श्रमिकों की जीओ-टैग फोटोग्राफ के साथ रियल टाइम उपस्थिति दर्ज की जा रही है. इससे कार्यों में पारदर्शिता बड़ी है और मजदूरों के मजदूरी भुगतान में तेजी आयी है. इस मोबाइल एप्लिकेशन का उपयोग मेट और रोजगार सहायक कर रहे हैं.

एप के माध्यम से मेट को प्रतिदिन योजना स्थल से रियल टाइम आधारित मस्टररोल में निहित मजदूरों की उपस्थिति विवरणी एवं योजना में मजदूरों द्वारा कार्य करते हुए फोटोग्राफ्स (देशांतर और अक्षांतर के साथ) अपलोड करना अनिवार्य है. अपलोड किए गए उपस्थिति विवरण के अनुसार ही मजदूरों का मजदूरी भुगतान किया जाता है.

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments