Thursday, April 25, 2024
HomeकोरबाKORBA: निगम कॉम्प्लेक्स की गैलरियों पर अवैध कब्जे.. अधिकारियों की मौन सहमति.....

KORBA: निगम कॉम्प्लेक्स की गैलरियों पर अवैध कब्जे.. अधिकारियों की मौन सहमति.. नागरिक हो रहे परेशान…

कोरबा। निगम क्षेत्र के अंतर्गत जितनी भी दुकानों का निर्माण हुआ है, उन दुकानों के दुकानदार गैलरी को तोड़कर अवैध कब्ज़ा करने जुटे है।  शटर को उखाड़कर बाहर पब्लिक पैलेस में कब्ज़ा जमाने की होड़ व्यापारियों में नशे का रूप ले चुका है।

 

अजब  नगर निगम के अधिकारियो का गजब कारनामा फिर सुर्खियों में है। गरीबो के अवैध कब्ज़ा पर बुलडोजर चलाने वाले अधिकारी अमीरो के सहयोगी बन रहे है।  कोरबा का जिले के रुप में अस्तित्व में आने के बाद से ही निगम कॉम्प्लेक्स में बने दुकानों की साइज भले ही छोटी है , पर आज दिन दोगुना-रात चौगुना कीमत बढ़ने वाली अचल संपत्ति के रूप में माना जाता है।

यही वजह है निगम क्षेत्र के  दुकान संचालक अब अपनी छोटी सी दुकान को बड़ा करने में निगम के अधिकारियो की जेब गरम कर रहे है। 10 बाई 10  की दुकान के शटर गैलरी में लगाकर  20 फिट लम्बा दुकान बनाने का यह आइडिया जबरदस्त है,  पर पब्लिक के लिए बने गैलरी पर कब्ज़ा करना आम लोगो की सुविधा के साथ खिलवाड़ करने जैसा है।बारिश, धूप से बचने के लिए अक्सर घर से बाहर निकले ग्राहकों के लिए ये गैलरियां ही एक मात्र सहारा होते हैं।

वैसे तो शहर में लम्बे समय से जो जमींन  सरकारी है वो हमारी है की कहावत को प्रभावशाली लोगो चरितार्थ करते आ रहे है ,पर  जिले के विभिन्न निगम कॉम्प्लेक्स में जिस तरह से दुकान के शटर को तोड़कर बड़ा करने का खेल खेला जा रहा है, उससे नगर निगम के अधिकारियो की साख में बट्टा जरूर लग रहा है।

बिल्डिंग हो रही कमजोर

 

शटर को या दुकानों के बीच की दीवार को तोड़कर बड़ा करने से बिल्डिंग कमजोर हो रही है। जिससे कभी भी बड़ा हादसा होने का खतरा बना हुआ है।   इसके बाद भी निगम के अधिकारी न तो  मनमानी करने वाले दुकानदारों को नोटिस जारी करते है और न ही किसी तरह का पनिशमेंट।  यही वजह है की शहर के कृमि एरिया में बैठे दुकानदारो को कब्ज़ा करने का अवसर मिल रहा है।

ट्रैफिक का बढ़ेगा दबाव

शहर में में जिस तरह से छोटे दुकानों को तोड़कर बड़ा करने का खेल खेला जा रहा है उससे यातायात का दवाब बढ़ने की सम्भावना बढ़ रही है। क्योकि दुकानदर पार्किंग की जगह को कब्ज़ा कर जब दुकान बढ़ा रहे  है तो दुकान में सामान खरीदने वाले ग्राहकों की मज़बूरी सड़क में वहां पार्क करने की होगी।  व्यस्ततम मार्ग होने की वजह से सड़क पर पार्किंग की वजह से दुर्घटना की संभावना बढ़ जाएगी।

 

 

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments