Saturday, March 2, 2024
HomeकोरबाKorba : हम जहां भी रहे, अपने क्षेत्र के श्रीराम दरबार में...

Korba : हम जहां भी रहे, अपने क्षेत्र के श्रीराम दरबार में शीष नवाकर अयोध्या से जुड़े रहे: पूर्व मंत्री जयसिंह

कोरबा। डीडीएम मार्ग स्थित श्रीराम दरबार में सोमवार को अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा के ऐतिहासिक दिन को उत्सव के रूप में मनाया गया। इस अवसर पर पूर्व राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल व सांसद श्रीमती ज्योत्सना महंत ने यहां पहुंचकर पूजा-अर्चना की। श्री अग्रवाल ने कहा कि हम चाहे जहां भी रहें, अपने-अपने क्षेत्र के श्रीराम मंदिर के माध्यम से अयोध्या से जुड़े रहे। उन्होंने श्रीराम से कोरबा व छत्तीसगढ़ के लिए सुख-शांति व समृद्धि की प्रार्थना की। सांसद श्रीमती महंत ने कहा कि यह पवित्र पल है। यह माहौल, यह ऊर्जा, यह वातावरण, यह घड़ी अद्भुत है। हमारे प्रभु राम आ गए हैं। हम सभी पर प्रभु राम की कृपा हुई है। हमारा जीवन धन्य हो गया, जो इस पल को घटित होते हुए हम देख पाए हैं।

 

आस्था की पावन नगरी अयोध्या में श्रीरामलला की प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर कोरबा भी भक्ति रस से सराबोर हुए राममय हो गया है। कोरबा के सभी मंदिरों की साफ-सफाई कराते हुए आर्कषक रूप से लाइटिंग एवं विभिन्न रंगो के कपड़ों से सजाया गया है । अभूतपूर्व उल्लास व उमंग की लहर देखने को मिली। कोरबा के डीडीएम स्कूल के सामने नवनिर्मित श्रीराम दरबार मंदिर में भी 21 जनवरी से ही श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। सोमवार की सुबह पूर्व केबिनेट मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने सपत्निक विधि-विधान के साथ पूजा अर्चना कर भोग प्रसाद का वितरण किया। तत्पश्चात सांसद ज्योत्सना महंत, महापौर राजकिशोर प्रसाद, सभापति श्यामसुंदर सोनी, उषा तिवारी, सपना चौहान, श्रीकांत बुधिया, जेपी अग्रवाल, रूपा मिश्रा, संतोष राठौर ने भी पूजा अर्चना कर मंदिर परिसर में नारियल का पेड़ लगाया गया। इस मौके पर ज्योत्सना महंत ने कहा कि श्रीराम जी ने अपने 14 साल की वनवास यात्रा के दौरान लगभग 10 साल छत्तीसगढ़ की धरती के विभिन्न स्थलों पर विश्राम किया था। छत्तीसगढ़ के चंद्रखुरी में भगवान राम को गोद में लिए हुए माता कौशिल्या की मंदिर स्थापित है, जो देश भर में माता कौशिल्या की इकलौता मंदिर है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments