Saturday, July 13, 2024
Homeछत्तीसगढ़कलेक्टर ने थामी बाइक एंबुलेंस की ड्राइविंग सीट, एसपी को पीछे बिठाया...

कलेक्टर ने थामी बाइक एंबुलेंस की ड्राइविंग सीट, एसपी को पीछे बिठाया और सैर पर निकल पड़े आईएएस-आईपीएस

बिलासपुर। कबीरधाम और बलरामपुर के बाद कलेक्टर अवनीश शरण की बाइक एंबुलेंस अब बिलासपुर में भी लॉन्च कर दी गई है। इतना ही नहीं, आईएएस ने मरीजों की मदद के लिए खास डिजाइन के वाहन का खुद चलकर टेस्ट भी लिया।

 

Breaking : TI ने नही लिखी FIR ..SP किया सस्पेंड..

शनिवार को निर्वाचन की तैयारियों का जायजा लेने कलेक्टर अवनीश शरण कोटा पहुंचे थे। उनके साथ एसपी रजनेश सिंह भी मौजूद रहे। वहां उन्होंने बाइक एंबुलेंस नजर आते ही उन्हें चलाने वालों से पूछा, कैसी चल रही है, कोई दिक्कत तो नहीं आई। इसके उन्होंने चाबी मांगी, खुद आगे और एसपी सिंह को पीछे बैठा लिया। अफसर कर्मी कुछ समझ पाते, उसके पहले ही कलेक्टर-एसपी इस पर सवार होकर उड़न छू हो लिए।

कलेक्टर अवनीश शरण और पुलिस अधीक्षक रजनेश सिंह लोकसभा चुनाव की तैयारियों के लिए लगातार दौरा कर रहे हैं। इसी कड़ी में उन्होंने शुक्रवार को कोटा क्षेत्र का दौरा किया।

8 महीने तक ‘IT ऑफिसर’ बनने की नौटंकी, पापा से कार खरीदवाई, 250 लोगों को दी दावत…फिर

 

इस बीच उनकी नजर एक स्वास्थ्य केंद्र में खड़े बाइक एंबुलेंस पर पड़ी। कलेक्टर तुरंत गाड़ी से उतरे और बोले बताओ कैसे चलाते हो बाइक एंबुलेंस। चलाने में कोई दिक्कत तो नही होती। इसके बाद चालक से चाबी लेकर कलेक्टर सीट पर बैठ गए। उनके साथ एसपी रजनेश सिंह भी सवार हो गए। गाड़ी स्टार्ट की और फिर उसमें एक चक्कर भी लगा डाले। साथ में गया प्रशासनिक और पुलिस अमला देखता रह गया। इस तरह उन्होंने निर्वाचन इंतजाम के साथ लगे हाथ स्वास्थ्य सुविधाओं का ट्रायल भी ले लिया।

जहां 108 पहुंचना मुश्किल, वहां के लिए बाइक एंबुलेंस

कोटा के दूरस्थ इलाकों में जहां 108 एंबुलेंस जल्दी नहीं पहुंच पाता। उसके लिए कलेक्टर ने पांच बाइक एंबुलेंस प्रदान किए हैं। ताकि, बीमार या फिर हादसे में घायल होने पर उन्हें तुरंत अस्पताल पहुंचाया जा सकें। अवनीश शरण ने ये प्रयोग बलरामपुर और कवर्धा में कलेक्टर रहने के दौरान भी किए थे और यह काफी कारगर रहा था।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments