Friday, June 21, 2024
Homeदेशक्या भारत में ऊंचे वेतन का लौटेगा दौर, जानें क्या कहते हैं...

क्या भारत में ऊंचे वेतन का लौटेगा दौर, जानें क्या कहते हैं एक्सपर्ट

नई दिल्ली। भारत में एक बार फिर ऊंचे वेतन का दौर लौट सकता है। दरअसल कोरोना महामारी के बाद से ही कॉरपोरेट जगत को भारी नुकसान उठाना पड़ा लेकिन अब एक बार फिर स्थिति मजबूत हो रही है। यही वजह है कि ऊंचे वेतन वृद्धि की उम्मीद जताई जा रही है। ऐसा होता है तो ये व्यावसायिक दृष्टिकोण से सुधार का संकेत है।

Aon जैसी एचआर फर्मों को 2016 के बाद से भारतीय उद्योग जगत में 9.9 फीसदी की वृद्धि की उम्मीद है। खास बात यह है कि कि ये 2016 के बाद से सबसे ज्यादा बढ़ोतरी होगी। वहीं मर्सर का कहना है कि यह 2020 में 7.7 प्रतिशत की तुलना में करीब 9 फीसदी

टैलेंट असेसमेंट फर्म मर्सर मेटल ने कहा कि जैसे-जैसे अधिक प्रौद्योगिकी पैठ के साथ व्यावसायिक परिदृश्य में बदलाव आता है विशिष्ट कौशल की मांग सर्वकालिक उच्च स्तर पर होती है। ऐसे में जावा, जावास्क्रिप्ट और एसक्यूएल डेवलपर्स वर्ष 2022 में अहम भूमिका निभाएंगे।

एओन के मुताबिक, ‘दो दशकों में भारत में सबसे ज्यादा नौकरियां जाने का प्रभाव साफ दिखा।’ 2020 में 12.8% की तुलना में 2021 में सभी क्षेत्रों में गिरावट 21% होने का अनुमान है।

खास बात यह है कि अलग-अलग पदों पर अलग-अलग वेतन वृद्धि दी गई। मर्सर के मुताबिक कज्यूमर सेक्टर में एक पैरा-पेशेवर ने 3.2% के प्रीमियम का हाइक दिया, जबकि एक कार्यकारी ने सामान्य उद्योगों की तुलना में 10.7% प्रीमियम, जबकि विनिर्माण क्षेत्र में एक प्रबंधन स्तर के कर्मचारी ने 10.2% के प्रीमियम का आदेश दिया।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments