Thursday, April 25, 2024
Homeक्राइममुकेश अग्रवाल की दबंगई..लेडी सब-इंस्पेक्टर से बोला- SP को बता दो मेरी...

मुकेश अग्रवाल की दबंगई..लेडी सब-इंस्पेक्टर से बोला- SP को बता दो मेरी गाड़ी का नंबर, पढ़े क्या है मामला..

ग्वालियर। लोकसभा चुनाव के चलते आचार संहिता लागू हो चुकी है. मध्य प्रदेश के ग्वालियर शहर की पुलिस चौक-चौराहों पर चेकिंग भी कर रही है, लेकिन इस दौरान शहर के संभ्रांत नागरिक ही पुलिस पर रौब झाड़ने से पीछे नहीं हटते हैं, चाहे सामने वर्दी में महिला अधिकारी ही क्यों ना हो. ऐसी ही एक बानगी ग्वालियर में गुरुवार को देखने को मिली, जब एक महिला सब-इंस्पेक्टर (SI) वाहन चेकिंग के दौरान एक हूटर लगी गाड़ी का चालान काटने की बात करने लगी, तो मालिक महिला एसआई को ही रौब दिखाने लगा.

यह पूरा घटनाक्रम शुक्रवार को ग्वालियर के विवेकानंद चौराहे पर हुआ. यहां पर महिला सब-इंस्पेक्टर सोनम पाराशर चेकिंग पॉइंट पर ड्यूटी कर रही थीं. चेकिंग पॉइंट से गुजरने वाले सभी वाहनों को चेक किया जा रहा था. जिन गाड़ियों पर हूटर लगा था, उन पर चालानी कार्रवाई की जा रही थी. तभी वहां से शहर के प्रतिष्ठित कारोबारी मुकेश अग्रवाल अपनी गाड़ी लेकर निकले.

 

 

मुकेश अग्रवाल की गाड़ी पर हूटर लगा हुआ था. बिना पात्रता हूटर लगा देखकर महिला सब-इंस्पेक्टर ने कारोबारी की गाड़ी को रुकवाया और चालान कटवाने की बात कही. जिस पर कारोबारी ने महिला सब-इंस्पेक्टर पर ही रौब झाड़ना शुरू कर दिया. कारोबारी ने एसआई को दो टूक कह दिया कि वह उसकी गाड़ी नहीं पकड़ सकती हैं और वह अपनी गाड़ी नहीं पकड़ने देगा, चाहे तो एसपी से बात कर लो.

कारोबारी का यह रौब देखकर एक बार को तो महिला सब इंस्पेक्टर भी परेशान हो गई, लेकिन नजदीक खड़े स्टाफ के अन्य लोगों ने जैसे तैसे मामला संभाला. इसके बावजूद मुकेश अग्रवाल के तेवर नरम होते हुए नजर नहीं आए और कारोबारी बिना चालान कटवाए वहां से निकल गया. इसका वीडियो सोशल मीडिया पर शनिवार को तेजी से वायरल हुआ, तो पुलिस अधिकारियों तक भी बात पहुंच गई.

 

इस मामले में एडिशनल एसपी शियाज केएम ने बताया, अक्सर चेकिंग के दौरान कई लोग चालान कटवाने की बजाय बहस करने लगते हैं और विवेकानंद चौराहे पर भी ऐसा ही हुआ है. साथ ही एडिशनल एसपी ने कहा कि कारोबारी ने वहां चालान नहीं कटवाया है, लेकिन उन्हें अब कोर्ट में चालान भरना होगा और अगर अब वो सड़क पर गाड़ी लेकर निकलते हैं तो उनकी गाड़ी को जब्त करने की कार्रवाई भी की जाएगी. सोशल मीडिया पर महिला सब इंस्पेक्टर और व्यापारी की इस बहस का वीडियो भी जमकर वायरल हो रहा है.

वहीं, महिला एसआई सोनम पाराशर का कहना है कि कारोबारी मुकेश अग्रवाल ने अभद्रता के साथ कानून को तोड़ा है. ऐसे हालात में स्मार्ट सिटी के CCTV के जरिए गाड़ी नंबर के आधार पर डिजिटल चालान भेजा जाएगा. साथ ही अभद्रता के चलते अलग से कानून कार्रवाई की जा रही है.

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments