Thursday, May 23, 2024
HomeकोरबाCEO को पुनः कटघोरा में पदस्थ कराने बिग डील... सक्रिय गैंग कोरबा...

CEO को पुनः कटघोरा में पदस्थ कराने बिग डील… सक्रिय गैंग कोरबा से लिख रहा स्क्रिप्ट…

कोरबा। आदिवासी विभाग के बाबू से  सी.ई.ओ. बने एच.एन.खुटेल को फिर कटघोरा सी.ई.ओ. बनाने की बिग डील होने की सुगबुगाहट है। कटघोरा में पदस्थ कराने के लिए एक गैंग सक्रिय हुआ है जो कोरबा में बैठकर कटघोरा जनपद की स्क्रिप्ट रचना कर रहा है।

बता दें कि आदिवासी विभाग में बाबू के पद पर पदस्थ रहे एच.एन. खुटेल उस समय से ही अनवरत विवादों में घिरे रहे हैं जब डी.एम.एफ. फंड की शुरुवात हुई। इसके बाद इत्तेफाक से साहेब प्रमोशन पाकर पूर्व सहायक आयुक्त की कृपादृष्टि से कटघोरा जनपद पंचायत कटघोरा के सी.ई.ओ. बन गए।

बाबूगिरी से ऑफिसर बनने के बाद भी असंसदीय व्यावहार लोगों के साथ नही छोड़ पाए और आखिरकार कटघोरा की नेतागिरी से वे उनकी कार्यप्रणाली कटघरे में आ गई और बड़े ही व्यथित मन से उदास होकर पवेलियन लौटना पड़ा। साहेब कुछ दिन फिर बाबूगिरी करने लगे, लेकिन यह सिलसिला ज्यादा दिन तक नही चल पाया और अपने आकाओं को खुश करने में कामयाब हो गए। इस तरह से  कभी कुर्सी में बैठना और उतरना चलता रहा। अब जब साहेब नाम के गुड़ के न रहने से मक्खियों का जुगाड़ रुक गया, साहेब कोई काम के नही रहे तो उन्हें फिर से कुर्सी तक पहुंचाने एक गिरोह सक्रीय हो गया है।

इसके लिए बाकायदा एक बड़ी डील भी हुई है। यही नही सूत्रों की माने तो इसके लिए कोरबा के एक अधिकारी के घर मे बैठकर स्क्रिप्ट लिखा जा रहा है। पंचायत सरपंचो से वापस पदस्थ कराने का पत्र भी इसी का एक हिस्सा माना जा रहा हैं।

सरपंचो ने पत्र लिखकर कहा कि सी.ई.ओ. खोटेल को यथावत रखा जाए। पत्र 21 जनवरी को कलेक्टर के समक्ष प्रस्तुत कर दिया। 10 जनपद सदस्य सहित सरपंच संघ के अध्यक्ष और 32 सरपंचों ने वापस लाने कहा है खोटेल के कार्य और व्यवहार से अब ये सभी संतुष्ट हैं और किसी तरह की कोई शिकायत व परेशानी नहीं होना बताकर उनके विरुद्ध आंदोलन नहीं करने व आपसी समन्वय स्थापित कर कार्य करने का आग्रह करते हुए खोटेल को कटघोरा में यथावत रखने का आग्रह किया है।

सरपंच संघ कटघोरा जनपद के अध्यक्ष होरी लसिंह कंवर ने खोटेल के व्यवहार व कार्यशैली को अच्छा बताकर आज तक किसी भी प्रकार का दुर्व्यवहार नहीं करने की बात कही है। पूर्व में की गई शिकायत को व्यक्तिगत स्वार्थ एवं द्वेषपूर्ण बताया गया है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments