Friday, February 23, 2024
HomeBreakingहेमंत सोरेन के दिल्ली आवास पर पहुंची ED की टीम, पुलिस भी...

हेमंत सोरेन के दिल्ली आवास पर पहुंची ED की टीम, पुलिस भी मौजूद, हो सकती है गिरफ्तारी

न्यूज डेस्क। जमीन घोटाले में झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन से पूछताछ के लिए सोमवार की सुबह उनके दिल्ली आवास पर प्रवर्तन निदेशालय (ED) के अधिकारी पहुंच गये। इससे उनकी गिरफ्तारी की आशंका जताई जाने लगी। हेमंत सोरेन शनिवार की रात रांची से अचानक दिल्ली रवाना हुए थे। वह पिछले दो दिन से दिल्ली में ही हैं। हालांकि प्रवर्तन निदेशालय के अफसरों और पुलिस को आवास पर हेमंत सोरेन नहीं मिले। पुलिस उनकी लोकेशन पता कर रही है।

मनी लॉड्रिंग के मामले में प्रवर्तन निदेशालय से नया समन मिलने के बाद झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के अचानक दिल्ली पहुंचने पर कई तरह के कयास लगाए जा रहे थे। माना जा रहा है कि सीएम हेमंत सोरेन कानूनी सलाह के लिए दिल्ली पहुंचे हैं। हालांकि मुख्यमंत्री कार्यालय से इसकी पुष्टि नहीं हो सकी है। इस बीच झारखंड की राजधानी रांची में भी सीएम हाउस के बाहर सुरक्षा बढ़ा दी गई है।
झारखंड के मुख्यमंत्री की दिल्ली यात्रा पहले से तय नहीं थी
मीडिया सूत्रों ने बताया, “उनके दिल्ली जाने की कोई योजना नहीं थी। ईडी के समन भेजे जाने के बाद अचानक उनकी योजना बनी। 29 और 31 जनवरी के लिए उनके कई कार्यक्रम पहले से प्रस्तावित हैं। इनमें 29 जनवरी को चाईबासा में, 30 जनवरी को पलामू में और 31 जनवरी को गिरिडीह में पूर्व निर्धारित कार्यक्रम शामिल हैं।”

एजेंसी ने पूछताछ के लिए उनसे समय देने को कहा था
इससे पहले प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने सोरेन को समन भेजकर पूछा था कि क्या वह 29 या 31 जनवरी को पूछताछ के लिए उपलब्ध हैं? हालांकि सोरेन की ओर से कहा गया है कि बजट सत्र की व्यस्तता की वजह से वह अभी पूछताछ के लिए समय नहीं दे सकते हैं। केंद्रीय एजेंसी ने 20 जनवरी को धन शोधन निवारण अधिनियम (PMLA) के तहत मुख्यमंत्री का बयान उनके आधिकारिक आवास पर दर्ज किया था। उस दिन पूछताछ पूरी नहीं हो पाने की वजह से ताजा समन जारी किया गया है।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से पूछताछ भूमि घोटाले में मनी लांड्रिंग से संबंधित मामले में होनी है। इस घोटाले में कई बड़े नाम जुड़े हैं। ईडी ने अब तक 14 लोगों को गिरफ्तार किया है, जिनमें 2011 बैच की IAS अधिकारी छवि रंजन भी शामिल हैं। वह राज्य के समाज कल्याण विभाग के निदेशक और रांची के उपायुक्त के रूप में कार्यरत थीं।

इस बीच झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) के कार्यकर्ताओं ने सोरेन को नया समन जारी किए जाने के खिलाफ रांची में विरोध प्रदर्शन किया। सैकड़ों कार्यकर्ता रविवार को रांची, लातेहार, गुमला और लोहरदगा से राज्य की राजधानी के मोरहाबादी मैदान में जुटे और राजभवन तक विरोध मार्च निकाला। प्रदर्शनकारियों ने आरोप लगाया कि राज्य में लोकतांत्रिक रूप से चुनी गई सरकार को अस्थिर करने के लिए केंद्र में सत्तारूढ़ बीजेपी द्वारा साजिश रची जा रही है और इसके लिए ईडी और सीबीआई जैसी केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग किया जा रहा है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments