Saturday, March 2, 2024
HomeकोरबाKorba : राख परिवहन पर पर्यावरण अधिकारी के ये हैं कड़े निर्देश.....

Korba : राख परिवहन पर पर्यावरण अधिकारी के ये हैं कड़े निर्देश.. ट्रांसपोर्टरों में हड़कंप.. 

कोरबा। क्षेत्रीय पर्यावरण अधिकारी शैलेष पिस्दा ने फ्लाई ऐश ट्रांसपोर्ट करने वाले ट्रांसपोर्टरों को फटकार लगाते हुए गाड़ियों में वर्क ऑर्डर लगाने का निर्देश दिया है। जिले के सभी ट्रांसपोर्टरो की बैठक लेकर कहा कि राख परिवहन करने वाले वाहनों में पूरे गाइडलाइन का पालन करने निर्देश दिया है। क्षेत्रीय पर्यावरण अधिकारी के फटकार बाद राख को कोकीन की तरह उपयोग करने वाले ट्रांसपोर्टरों में हड़कंप मच गया है।

 

बता दें कि राखड़ परिवहन का ठेका लेने वाले ट्रांसपोर्टरों के लिए विशेष दिशा निर्देश जारी किए गए हैं। ऐसे वाहनों में अब राखड़ परिवहन का वर्क ऑर्डर चिपकाना होगा। वर्क ऑर्डर में स्वीकृत स्थल पर ही राखड़ डंप करने के निर्देश भी दिए गए हैं और गाइड लाइन की अनदेखी भारी भी पड़ सकती है।

 क्षेत्रीय पर्यावरण अधिकारी ने परिवहन कर्ताओं की एक बैठक ली है। 

बैठक में इसमें शासन की गाइड लाइन से अवगत कराते हुए उनका अक्षरशः पालन सुनिश्चित करने कहा गया है। शहर और उपनगरीय क्षेत्र समेत इन दिनों जिलेभर में खुले स्थानों पर राखड़ डंप करने की शिकायतें लगातार मिल रही हैं। इससे पर्यावरण तो प्रभावित हो ही रहा है, परिवहनकर्ताओं की मनमानी के चलते आम लोगों को भारी परेशानी उठानी पड़ रही है।

तय स्थलों पर करें राख डंप

लोगों के लिए राखड़ बड़ी समस्या बनी हुई है। इस समस्या से मुक्ति दिलाने क्षेत्रीय पर्यावरण मंडल ने पहल की है। राखड़ परिवहन को लेकर ट्रांसपोटर्स की बैठक लेते हुए उन्हें नियमों के तहत परिवहन के निर्देश दिए गए हैं। खुले में राखड़ डंप व गाइड लाइन का पालन किए बगैर किए जा रहे परिवहन को लेकर क्षेत्रीय पर्यावरण अधिकारी एक्शन मोड में है। ऐसे में लोगों में भी अब इस विकराल रूप ले चुकी समस्या से राहत मिलने की उम्मीद जागी है। इस कड़ी में क्षेत्रीय पर्यावरण अधिकारी ने राख परिवहन करने वाले परिवहनकर्ताओं की बैठक ली है। बैठक में निर्धारित स्थान पर राखड़ डंप करने कहा गया है। साथ ही राखड़ परिवहन करने वाली वाहनों में वर्क आर्डर चिपकाने निर्देशित किया गया है। यानि जिन वाहनों में राखड़ का परिवहन हो रहा है उनमें संबंधित वर्क आर्डर चस्पा होना चाहिए। गाइड लाइन का उल्लंघन करने वाले ऐसे ट्रांसपोटर्स के विरुद्ध सख्ती से पेश आते हुए कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

 

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments