Thursday, July 18, 2024
HomeUncategorizedNEET पेपर लीक मामले में गोधरा के 27 छात्रों से 10-10 लाख...

NEET पेपर लीक मामले में गोधरा के 27 छात्रों से 10-10 लाख का हुआ था सौदा

केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) की एक टीम NEET परीक्षा में कथित अनियमितताओं की जांच के लिए सोमवार को गुजरात के पंचमहल जिले में स्थित गोधरा शहर पहुंची. गोधरा पुलिस ने 27 उम्मीदवारों से 10-10 लाख रुपए लेकर NEET-UG परीक्षा पास कराने में मदद करने की कथित कोशिश के लिए 8 मई को आपराधिक साजिश, धोखाधड़ी और आपराधिक विश्वासघात सहित भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत एक मामला दर्ज किया था.

प्रश्नपत्र लीक के दावों की जांच को लेकर छात्रों के देशव्यापी विरोध प्रदर्शन और मुकदमेबाजी के बीच CBI ने रविवार को भारतीय दंड संहिता की धारा 120-बी (आपराधिक साजिश) और 420 (धोखाधड़ी) के तहत अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ एक नई प्राथमिकी दर्ज की. गुजरात के गृह विभाग ने रविवार को राज्य पुलिस द्वारा दर्ज NEET-UG प्रश्नपत्र लीक के मामलों को CBI को हस्तांतरित करने के लिए एक अधिसूचना जारी की जिससे केंद्रीय एजेंसी के जांच की जिम्मेदारी संभालने का मार्ग प्रशस्त हो गया.

गोधरा में 5 लोगों की हुई थी गिरफ्तारी

गुजरात पुलिस ने NEET-UG में कथित अनियमितताओं के मामले में अब तक गोधरा के एक स्कूल के प्रधानाचार्य और शिक्षक सहित 5 लोगों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार किए गए व्यक्तियों में तुषार भट्ट, स्कूल के प्रिंसिपल परषोत्तम शर्मा, वडोदरा स्थित शिक्षा सलाहकार परशुराम रॉय, उनके सहयोगी विभोर आनंद और कथित बिचौलिए आरिफ वोहरा शामिल हैं.

उप केंद्र अधीक्षक से 7 लाख बरामद हुए थे

जिला शिक्षा अधिकारी की शिकायत पर पुलिस थाने में दर्ज प्राथमिकी के अनुसार भट्ट से 7 लाख रुपये नकद बरामद किए गए थे जो जय जलाराम स्कूल में शिक्षक के रूप में कार्यरत थे. भट्ट को शहर में NEET-UG के लिए उपकेंद्र अधीक्षक नियुक्त किया गया था. सूत्रों के अनुसार, उन 27 छात्रों में से जिन्होंने या तो अग्रिम भुगतान किया था या रॉय और अन्य को पैसे देने पर सहमति व्यक्त की थी, केवल 3 ही परीक्षा पास कर पाए.

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments