Friday, June 21, 2024
HomeकोरबाKorba: लेंग्वेज स्किल और गणित-अंग्रेजी में किया जा रहा सरकारी स्कूल के...

Korba: लेंग्वेज स्किल और गणित-अंग्रेजी में किया जा रहा सरकारी स्कूल के बच्चों की बुनियादी दक्षता का परीक्षण

0 संकुलों के जरिए असर टूल से भाषाई कौशल संख्यात्मक ज्ञान एफएलएन की अवधारणा पर चल रहा अधिगम क्षमता का आंकलन

कोरबा।  स्कूलों की शिक्षा को बेहतर पायेदान पर ले जाने इन दिनों शिक्षा से गठित ब्लॉक व संकुल स्तर की टीम गांव-गांव में सघन दौरा कर रही है। वे गांव के लोगों, खासकर माताओं व बच्चों के साथ विभिन्न रोचक व ज्ञानवर्धक गतिविधियों के माध्यम से शिक्षा को प्रोत्साहित कर रहे हैं। अंगना मा शिक्षा के माध्यम से जहां माताओं का उन्मुखीकरण किया जा रहा, बच्चों को अपने शिक्षकीय कुशलता से उत्कर्ष व नवोदय विद्यालय में चयनित होने अहम भूमिका निभा रहे शिक्षकों को सम्मानित कर प्रोत्साहित किया जा रहा। इस गतिविधि में विशेषकर असर टूल्स का उपयोग कर बच्चों में भाषाई कौशल व संख्यात्मक ज्ञान के जरिए गणित-अंग्रेजी व भाषा में दक्षता का आंकलन भी किया जा रहा।

विकासखंड शिक्षा अधिकारी अधिनस्थ अधिकारियों के माध्यम से विभिन्न संकुलों में अध्ययन-अध्यापन को घर से ही शुरू कर बच्चों को स्कूल आते-आते उत्कृष्ट शिक्षा से जोड़ने के प्रयास में जुटे हुए हैं। असर टूल के माध्यम से भाषा,गणित और अंग्रेजी विषय में मूलभूत बुनियादी दक्षता, भाषाई कौशल संख्यात्मक ज्ञान एफएलएन की अवधारणा को लेकर बच्चों के अधिगम क्षमता का परीक्षण टीम के द्वारा किया गया। माताओं स्कूली बच्चों के सांस्कृतिक कार्यक्रम ने उपस्थित जनसमुदाय का मन मोह लिया। कार्यक्रम के दौरान सभी बच्चों की प्रस्तुति की मुक्त कंठ से सराहना भी की गई। असर का पूरा नाम (एनुअल स्टेटस आॅफ एजुकेशन रिपोर्ट) है। इसका अर्थ है शिक्षा की स्थिति का वार्षिक रिपोर्ट। यह स्कूलों में प्रारंभिक शिक्षा, यानि कक्षा पहली से आठवीं तक पढ़ने वाले बच्चों की स्थति को मापने का सबसे बड़ा सर्वे है।

कटघोरा विकासखंड के अंतर्गत छह गांवों का चयन

 

समग्र शिक्षा अभियान अंतर्गत समुदाय और स्कूलों के मध्य बच्चों की अधिगम क्षमता का विकास व संवर्धन के लिए विकासखंड कटघोरा से चयनित 6 ग्राम पंचायतों में सामाजिक अंकेक्षण, अंगना में शिक्षा और माता उन्मुखीकरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इनमें सिंघाली, जवाली, खोडरी बाता, शुक्लाखार, रलिया मुढ़ाली शामिल हैं। बीईओ आईपी कश्यप के मार्गदर्शन, एबीईओ अभिमन्यु टेकाम के नेतृत्व व बीआरसीसी नंदकुमार पटेल के सहयोग से सामाजिक अंकेक्षण टीम श्रीमती प्रिया दुबे, नेहा सिंह,  श्रद्धा शर्मा, भवानी गोपाल के साथ कुशल टीम गठित कर अलग-अलग स्कूलों में समुदाय के बीच पहुंचकर बच्चों का शैक्षिक स्तर जाना गया।

103 बच्चों व 66 मार्गदर्शक शिक्षकों का किया गया सम्मान

स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा राज्य में छोटे बच्चों की माताओं को अपने बच्चों को घर पर रहकर स्कूल के लिए तैयार करने के उद्देश्य से महिला शिक्षिकाओं के नेतृत्व में अंगना मा शिक्षा 3.0 मेले  में प्रत्येक संकुलों में श्री कश्यप द्वारा एक्टिव मदर 12 व स्मार्ट माता 25 को सम्मानित किया गया। अंगना में शिक्षा के तहत मेले में बच्चों के बौद्धिक विकास, शारीरिक विकास,भाषा विकास गणित का आंकलन खेल खेल में किया गया। नवोदय विद्यालय परीक्षा, उत्कर्ष विद्यालय में चयनित अन्य सभी विधाओं में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले 103 बच्चों व मार्गदर्शक 66 शिक्षकों को भी सम्मानित किया गया। कार्यक्रम को सफल बनाने में समस्त क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि, नोडल प्राचार्य, समस्त संकुल समन्वयक रामभुवन कंवर, कुंजबिहारी टंडन, खुराना, रस्तोगी, संतोष कुर्रे, लक्ष्मी कैवर्त्य, जयेश लकड़ा और अन्य सभी शिक्षक शिक्षिकाओं का सराहनीय सहयोग रहा।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments