Saturday, March 2, 2024
HomeUncategorizedKorba : ठगी करने के लिए बने सिविल इंजीनियर और लाखों की...

Korba : ठगी करने के लिए बने सिविल इंजीनियर और लाखों की ठगी, मां और बेटा गिरफ्तार; पति फरार

कोरबा: कोरबा में कैटरिंग सर्विस का मालिक और ठेकेदार बताकर लाखों की ठगी करने वाली महिला और उसके बेटे को गिरफ्तार किया है। वहीं, मामले का मुख्य आरोपी गोपाल गोयल अभी फरार चल रहा है। पुलिस आरोपी की तलाश में जुटी है।

आरोपी गोपाल गोयल ने अपनी पत्नी और बेटे अक्षय गोयल के साथ मिलकर दादर में रहने वाले तीन दुकानदारों से दो लाख रुपयों का सामान खरीदा था, लेकिन पैसे देने में आनाकानी की जा रही थी। परेशान दुकानदारों ने पुलिस से शिकायत की, जिसके बाद कार्रवाई करते हुए पुलिस ने महिला और उसके बेटे को गिरफ्तार कर लिया, जबकि महिला के पति की तलाश की जा रही है।

शिकायत मिलने पर हरकत में आई पुलिस ने महिला व उसके बेटे को गिरफ्तार कर लिया, जबकि उसका पति अभी फरार चल रहा है। मामले का मुख्य आरोपी गोपाल वैश्य खुद को कभी कैटरिंग सर्विस का मालिक बताता था तो कभी ठेकेदार। इसके आधार पर उसके द्वारा पत्नी और बेटे के साथ मिलकर दादर में संचालित तीन दुकानदारों से राशन और मकान निर्माण सामग्री की खरीदी की गई थी। सामान लेने के बाद उसके द्वारा दुकानदारों को पैसे नहीं दिए जा रहे थे, जिससे परेशान होकर दुकानदारों ने पुलिस से शिकायत। इसके बाद पुलिस ने मामले में धारा-420 के तहत अपराध कायम किया और महिला व उसके बेटे को गिरफ्तार कर लिया।

मानिकपुर चौकी प्रभारी प्रेमचंद साहू ने बताया कि गोपाल वैश्य खुद को कभी सिविल इंजीनियर बताता तो कभी खुद को ठेकेदार बताकर लोगों को चूना लगाते आ रहा था। एक दुकानदार को सिविल इंजीनियर का ठेकेदार बताकर उसके दुकान से सिविल संबंधित लाखों का सामान लेकर गया। इसके बाद उसने उसे एक चेक भी थमा दिया, जिस अकाउंट में पैसे ही नहीं थे।

वहीं, उसकी पत्नी और बेटे भी लोगों को कभी कैटरर्स का ठेकेदार बातकर राशन दुकान से हजारों का सामान ले लिया। इसकी शिकायत मानिकपुर चौकी पुलिस से की गई। इसके बाद पुलिस आरोपी महिला और बेटे को गिरफ्तार कर लिया। वहीं, आरोपी पति फरार हो गया

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments