Wednesday, June 12, 2024
HomeकोरबाKorba : महसूस करें रक्त का इंतजार कर रहे किसी मरीज का...

Korba : महसूस करें रक्त का इंतजार कर रहे किसी मरीज का मर्म, आप भी अवश्य निभाएं रक्तदान का धर्म

कोरबा। अगर आपकी उम्र 18 साल से अधिक है और वजन 45 किलो से ज्यादा तो 60 वर्ष की आयु तक आप रक्तदान अवश्य करें। एक व्यक्ति वर्ष में 4 बार रक्तदान कर सकता है, जो किसी जरूरतमंद की जिंदगी बचा सकता है। यही उद्देश्य रखते हुए एनकेएच व हेल्प वेलफेयर सोसायटी का रक्तदान शिविर आयोजित किया गया। शिविर में 60 रक्तविरों ने रक्तदान का महादान किया।

रविवार को न्यू कोरबा हॉस्पिटल एवं छत्तीसगढ़ हेल्प वेलफेयर सोसायटी के सहयोग से बालाजी ब्लड बैंक में रक्तदान शिविर लगाया गया। शिविर में 60 रक्तदाताओं ने रक्तदान किया। इस दौरान क्षेत्र में युवाओं और आमजनों के साथ ही महिलाओं ने इस शिविर में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। अन्य क्षेत्र से आए लोगों में भी रक्तदान को लेकर खासा उत्साह देखने को मिला।
शिविर को संबोधित करते हुए न्यू कोरबा हॉस्पिटल के प्रबंधक राजेश चंदानी व छत्तीसगढ़ हेल्प वेलफेयर सोसायटी के संचालक राणा ने उपस्थित लोगों को जानकारी देते हुए बताया कि कोई भी व्यक्ति जिनकी उम्र 18 वर्ष से अधिक, वजन 45 किलो से अधिक तथा उम्र 60 वर्ष तक हो,वह रक्तदान कर सकता है। एक व्यक्ति वर्ष में 4 बार रक्तदान कर सकता है। रक्तदान का महत्व बताते हुए कहा कि रक्त का निर्माण किसी यंत्र या मशीन से नहीं किया जा सकता है, रक्त केवल मानव के शरीर में निर्मित होती है। आप कोई भी वस्तु का दान कर सकते है किन्तु रक्तदान को महादान, जीवनदान कहा गया है। आपके रक्तदान से किसी जरूरतमंद व्यक्ति को खून देकर उनके जीवन की रक्षा की जा सकती है। स्वैच्छिक रक्तदान करने से अनेक फायदे हैं। रक्तदान के बाद हमारे शरीर में रक्त निर्माण की गति में तेजी आती है। हार्ट अटैक की संभावना कम हो जाती है। रक्तदान करने से शरीर में किसी भी प्रकार की कमजोरी नहीं आती। शिविर के अवसर पर छत्तीसगढ़ हेल्प वेलफेयर सोसाइटी से राणा मुखर्जी , रोहित कश्यप एवं एनकेएच के प्रबंधक राजेश चंदानी समेत बड़ी संख्या में सदस्यगण उपस्थित थे। जिन लोगों ने रक्तदान किया उन्हें संस्था की ओर से प्रशस्ति पत्र भेंट कर सम्मानित किया गया।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments