Thursday, May 23, 2024
Homeकोरबावायरल VDO : चौकी प्रभारी पर नाबालिग-प्रताड़ना का आरोप.. न्यू कोरबा हॉस्पिटल...

वायरल VDO : चौकी प्रभारी पर नाबालिग-प्रताड़ना का आरोप.. न्यू कोरबा हॉस्पिटल प्रबंधन के सामने यक्ष प्रश्न.. कनेक्शन महासमुंद तक…

कोरबा। रामपुर चौकी प्रभारी पर चोरी के आरोप में एक नाबालिक को पकड़कर टार्चर करने का आरोप लगा हैं। मामले में पीड़ित के पिता और मां का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा हैं। जिसमें पीड़ित के पिता का साफ आरोप है की उसके पुत्र को  बाइक चोरी के शक में पुलिस उठा कर ले गई और मारपीट किया गया। जब उसकी हालत खराब हुई तो उसे हॉस्पिटल में भर्ती करा दिया।

सबसे बड़ी बात यह है कि नाबालिग बच्चे को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया और उसके माता-पिता कोई जानकारी तात्कालिक रुप से नहीं दी गई और न ही उनकी किसी तरह की सहमति ली गई।

NKH (न्यू कोरबा हॉस्पिटल) प्रबंधन संदेह के दायरे में

जैसा VDO सामने आया है, उससे पूर्व से कई विवादों से घिरे NKH (न्यू कोरबा हॉस्पिटल) प्रबंधन पर सवाल खड़े किये जा रहे हैं कि नाबालिग बच्चे को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया और उसके माता-पिता साथ में नहीं थे तो किसकी अनुमति भर्ती कराने के लिए ली गई थी?

नाबालिग बच्चे को हॉस्पिटल में भर्ती कराने के लिए अगर पुलिस विभाग से कोई पुलिस वाला गया था(जैसे कि vdo से स्पष्ट है कि पुलिस ने ही नाबालिग बच्चे को हॉस्पिटल में भर्ती किये जाने की बात नाबालिग बच्चे के माता-पिता को बताई।) तो NKH (न्यू कोरबा हॉस्पिटल) प्रबंधन ने पुलिस से सवाल क्यों नहीं पूछा कि जिला चिकित्सालय में भर्ती कराने के स्थान पर हमारे नीजि हॉस्पिटल में भर्ती क्यों करा रहे हो? ऐसे कोई सामान्य इंसान जाए तो NKH (न्यू कोरबा हॉस्पिटल) प्रबंधन सैकड़ों सवाल दागता है।

NKH (न्यू कोरबा हॉस्पिटल) चप्पे-चप्पे पर CCTV लगे हुए हैं। ऐसे तो खुद पर लगे दागों में Super RIN की चमकदार उजलाई लाने के लिए NKH (न्यू कोरबा हॉस्पिटल) प्रबंधन तत्काल CCTV का फुटेज जारी करके अपना पल्ला झाड़ लिया करता है। देखने वाली बात यह होगी कि क्या नाबालिग बच्चे के माता-पिता की बिना अनुमति लाये गए बच्चे के संबंध में भी CCTV फुटेज जारी किया जाएगा!!

अब NKH (न्यू कोरबा हॉस्पिटल) प्रबंधन पर सवाल यह भी खड़ा होता है कि यह तो पहला प्रकरण है, जिसमें वायरल VDO से स्थिति स्पष्ट हो गई है, बाकी और भी जाने कितनी बार इसी स्थिति में और भी लोगों को भर्ती कराया गया होगा? इसकी भी जांच की जाने की आवश्यकता है।

 

मामला 4 अक्टूबर 2022 को शाम 4:00 बजे का बताया जा रहा है। रामपुर पुलिस ने 15 वर्षीय बालक को को बाइक चोरी के शक में उठाकर ले गई। रात भर नाबालिक बच्चे को डंडे से और लाठी से मारपीट किया गया, जब उसकी हालत बिगड़ी तो अपने दामन बचाने के लिए न्यू कोरबा हॉस्पिटल में उपचार के लिए भर्ती करा दिया गया।

देखें वीडियो..

 

 

 महासमुंद पुलिस नाम से इस 8349370501 नम्बर से किया गया था पोस्ट

 

रामपुर चौकी प्रभारी पर लगे आरोप वाले वीडियो वायरल होने के बाद वाट्सअप ग्रुप पर चौकी प्रभारी के पक्ष वाला एक वीडियो जो महासमुंद पुलिस के नाम से सुरक्षित ब्यक्ति ने कोरबा के वाट्सअप ग्रुप में वीडियो और दिलीप मिरी के खिलाफ पोस्ट किया। जिसमें नाबालिक को प्रताड़ित करने का वीडियो को द्वेष पूर्वक बताया गया। वही दिलीप मिरी के खिलाफ जमकर कमेंट्स किया हैं।

 

महासमुंद से चौकी प्रभारी का क्या कनेक्शन

शुक्रवार की रात जब कोरबा के वाट्सअप ग्रुपों में चौकी प्रभारी के पक्ष पोस्ट वायरल किया गया तो हमने चौकी प्रभारी के महासमुंद कनेक्शन को तस्दीक करना शुरू किया । जानकारी जुटाने पर यह बात सामने आई कि जिस नम्बर से चौकी प्रभारी का बचाव किया गया है और दिलीप मिरी के खिलाफ पोस्ट किया हैं। वह नम्बर पूर्व पुलिस कप्तान के पीआरओ की भूमिका में थे और अब वे महासमुंद में न्यूज और वीडियो वायरल करने का काम कर रहे हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments