Saturday, December 3, 2022
Home Blog

नेता जी ने मनाया अनोखे अंदाज में बर्थडे..नो व्हीकल डे के साथ निकाली साइकलिंग रैली, IPS रतन लाल डांगी ने किया उत्साहवर्धन

0

रायपुर। रायपुर नगर निगम सभापति प्रमोद दुबे की अगुवाई में पिछले कई सालों से हर माह की 3 तारीख को पर्यावरण को संरक्षित रखने के लिए नो व्हीकल डे के नाम से साइकिल रैली का आयोजन किया गया। इसकी महत्ता को समझने के बाद शहर के लोग स्वमेव इसमें जुड़ते गए और कारवां यहां तक बढ़ा कि लोग अलग-अलग मोहल्ले से प्रस्ताव लेकर आने लगे कि इस बार का अभियान उसके वार्ड से शुरू किया जाए।

 

लोगों का काफी अच्छा समर्थन मिला,गैर राजनीतिक इस मुहिम में शहर के प्रबुद्धजन जुड़े और आज यह महाअभियान का रूप ले चुका है।

शहरवासियों के बीच से ही प्रस्ताव आया कि पर्यावरण संरक्षण के साथ अब नशे के खिलाफ भी अभियान चलाया जाए,प्रमोद दुबे से मिलकर विभिन्न सामाजिक,सांस्कृतिक,खेल,व्यापारिक संगठनों ने कहा कि नशे के खिलाफ मुहिम में वे सब साथ जुड़ेंगे इसकी शुरूआत बड़े पैमाने पर जन समर्थन लेकर किया जाए। श्री दुबे ने बताया कि करीब एक हजार लोग 3 दिसंबर को सुबह 7.15 बजे सुंदरनगर गेट से बूढ़ातालाब उद्यान जुटे और इस अभियान में सहभागिता के लिए शपथ ली।

SHO को बेहतर कार्य के लिए बेस्ट कॉप ऑफ द मंथ से एसपी ने किया सम्मानित..इमानदारी से कार्य कर जनता के बीच और बेहतर छवि बनाने की दी सलाह…

0

कोरबा। निष्ठा और लगन से कार्य करने वाले नगर कोतवाल रूपक शर्मा को को शनिवार पुलिस अधीक्षक ने बेस्ट कॉप ऑफ द मंथ से सम्मानित किया है। साथ ही एसपी ने सम्मानित कर्मचारियों को और निष्ठा व इमानदारी से कार्य करते हुए जनता के बीच और बेहतर छवि बनाने की सलाह भी दी।

बता दें कि पुलिस अधीक्षक कोरबा संतोष सिंह द्वारा पुलिसिंग के क्षेत्र में अच्छा कार्य कर रहे अधिकारी कर्मचारी को प्रोत्साहित करने हेतु *” कॉप ऑफ द मंथ “* पुरस्कार देने की घोषणा की गई है । संतोष सिंह द्वारा पदस्थापना के समय से ही अच्छा कार्य करने वाले अधिकारी कर्मचारियों को कॉप ऑफ द मंथ पुरस्कार से पुरस्कृत किया जा रहा है। इसी कड़ी में माह नवंबर 2022 में पुलिसिंग के क्षेत्र में अच्छा कार्य करने वाले पुलिस अधिकारी कर्मचारियों को संतोष सिंह के द्वारा आज सम्मानित किया गया। विगत दिनों सीएसईबी चौकी क्षेत्र में एक युवक फांसी के फंदे पर लटक गया था , जिसकी सूचना डायल 112 के कर्मचारियों को मिलने पर तत्काल मौके पर पहुंचकर दरवाजा तोड़कर युवक को फांसी के फंदे से उतारकर नया जीवन दिया था।डायल 112 के कर्मचारियों द्वारा किए गए इस मानवीय एवं पुनीत कार्य की सराहना करते हुए पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह द्वारा डायल 112 में तैनात आरक्षक लीलाराम खुशराम एवं वाहन चालक सतपाल सिंह की प्रशंसा करते हुए कॉप ऑफ द मंथ पुरस्कार से सम्मानित किया गया ।

इन्हें किया गया सम्मानित

सामुदायिक पुलिसिंग एवं लंबित प्रकरणों के निराकरण के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने के फलस्वरुप थाना प्रभारी कोतवाली निरीक्षक रूपक शर्मा को भी इस पुरस्कार से सम्मानित किया गया है ।

इसके अतिरिक्त अलग-अलग जिम्मेदारी के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले अधिकारियों को काॅप ऑफ द मंथ चुना गया।जिसमें चौकी प्रभारी चैतमा सउनि सुरेश जोगी सहित प्रधान आरक्षक महिला जलवेश कंवर, प्रधान आरक्षक मनाेज कुमार ,आरक्षक रामकुमार चंद्रा, हेमशरण श्याम, अश्वनी पंकज को पुलिस अधीक्षक संताेष सिंह ने काॅप ऑफ मंथ के पुरस्कार से सम्मानित कर प्रशस्ति पत्र देकर उनका हौसला बढ़ाया है । डायल 112 के चालक सतपाल सिंह को प्रशस्ति पत्र के अतिरिक्त 1000 रुपए नगद राशि से भी पुरस्कृत किया गया है ।

SHO को बेहतर कार्य के लिए बेस्ट कॉप ऑफ द मंथ से एसपी ने किया सम्मानित..इमानदारी से कार्य कर जनता के बीच और बेहतर छवि बनाने की दी सलाह…

0

कोरबा।निष्ठा व लगन से कार्य करने वाले नगर कोतवाल रूपक शर्मा को को शनिवार पुलिस अधीक्षक ने बेस्ट कॉप ऑफ द मंथ से सम्मानित किया है। साथ ही एसपी ने सम्मानित कर्मचारियों को और निष्ठा व इमानदारी से कार्य करते हुए जनता के बीच और बेहतर छवि बनाने की सलाह भी दी।

बता दें कि पुलिस अधीक्षक कोरबा संतोष सिंह द्वारा पुलिसिंग के क्षेत्र में अच्छा कार्य कर रहे अधिकारी कर्मचारी को प्रोत्साहित करने हेतु *” कॉप ऑफ द मंथ “* पुरस्कार देने की घोषणा की गई है । संतोष सिंह द्वारा पदस्थापना के समय से ही अच्छा कार्य करने वाले अधिकारी कर्मचारियों को कॉप ऑफ द मंथ पुरस्कार से पुरस्कृत किया जा रहा है। इसी कड़ी में माह नवंबर 2022 में पुलिसिंग के क्षेत्र में अच्छा कार्य करने वाले पुलिस अधिकारी कर्मचारियों को संतोष सिंह के द्वारा आज सम्मानित किया गया। विगत दिनों सीएसईबी चौकी क्षेत्र में एक युवक फांसी के फंदे पर लटक गया था , जिसकी सूचना डायल 112 के कर्मचारियों को मिलने पर तत्काल मौके पर पहुंचकर दरवाजा तोड़कर युवक को फांसी के फंदे से उतारकर नया जीवन दिया था।डायल 112 के कर्मचारियों द्वारा किए गए इस मानवीय एवं पुनीत कार्य की सराहना करते हुए पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह द्वारा डायल 112 में तैनात आरक्षक लीलाराम खुशराम एवं वाहन चालक सतपाल सिंह की प्रशंसा करते हुए कॉप ऑफ द मंथ पुरस्कार से सम्मानित किया गया ।

 

इन्हें किया गया सम्मानित

सामुदायिक पुलिसिंग एवं लंबित प्रकरणों के निराकरण के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने के फलस्वरुप थाना प्रभारी कोतवाली निरीक्षक रूपक शर्मा को भी इस पुरस्कार से सम्मानित किया गया है ।

इसके अतिरिक्त अलग-अलग जिम्मेदारी के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले अधिकारियों को काॅप ऑफ द मंथ चुना गया।जिसमें चौकी प्रभारी चैतमा सउनि सुरेश जोगी सहित प्रधान आरक्षक महिला जलवेश कंवर, प्रधान आरक्षक मनाेज कुमार ,आरक्षक रामकुमार चंद्रा, हेमशरण श्याम, अश्वनी पंकज को पुलिस अधीक्षक संताेष सिंह ने काॅप ऑफ मंथ के पुरस्कार से सम्मानित कर प्रशस्ति पत्र देकर उनका हौसला बढ़ाया है । डायल 112 के चालक सतपाल सिंह को प्रशस्ति पत्र के अतिरिक्त 1000 रुपए नगद राशि से भी पुरस्कृत किया गया है ।

मल्टीस्पेशलिटी ट्रामा सुविधाएं.. अनुभवी चिकित्सकों की टीम के साथ शहर के हृदयस्थल में श्वेता नर्सिंग होम..

0

कोरबा। नगर के ख्यातिलब्ध और वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. बी डी अग्रवाल द्वारा पावर हाउस रोड में संचालित श्वेता नर्सिंग होम को नई सुविधाओं के साथ अपडेट किया गया है। अस्पताल में अब आईसीयू, मेटरनिटी वार्ड, मॉड्यूलर ऑपरेशन थियेटर समेत 50 बेड की सुविधा होगी। चिकित्सा सेवा के क्षेत्र में वर्तमान जरूरतों के मद्देनजर श्वेता नर्सिंग होम को विभिन्न चिकित्सा सुविधाओं से पूर्ण करते हुए आम जनता के हितार्थ इसका लोकार्पण किया जा रहा है।
कोरबा शहर के मध्य एक ऐसे चिकित्सा संस्थान की जरूरत महसूस की जा रही थी जहां मल्टीस्पेशल्टी ट्रामा सुविधाएं मौजूद हों तथा शहर की जनता को उपचार के लिए उनके बीच ही किफायती दरों पर सुविधाएं प्राप्त हो सकें। डॉक्टर बीडी अग्रवाल ने इस जरूरत को समझा और 40 वर्षों के अनुभव व किफायती चिकित्सा सुविधा को ध्यान रख डॉ प्रिंस जैन के साथ मिल नई चिकित्सा टीम तैयार करते हुए इस सेवा कार्य को आगे बढ़ाया है। अस्पताल में विभिन्न विशेषज्ञों के चिकित्सक अपनी सेवाएं प्रदान करेंगे।
श्वेता नर्सिंग होम में उपलब्ध सुविधाओं में जनरल मेडिसिन, स्त्री एवं प्रसूति रोग, नवजात एवं शिशु रोग, मैक्सिलोफेशियल एवं दंत रोग, दर्द निवारण, हृदय रोग, पेट रोग, गुर्दा रोग, मस्तिष्क रोग, मूत्र रोग, गैस्ट्रोइंटेस्टेनिअल सर्जरी, यूरोलॉजी एवं यूरो सर्जरी, जनरल सर्जरी, डायलिसिस, नाक-कान-गला रोग एवं मनोरोग के विभाग उपलब्ध होंगे तथा इनके मरीजों को सुविधाएं प्रदान की जाएंगी।
अत्याधुनिक सुविधाओं में ट्रामा एवं आपातकालीन सुविधा, हड्डी एवं जोड़ प्रत्यारोपण सर्जरी, 2D इको,ईसीजी टीएमटी, ईईजी, सोनोग्राफी एवं कलर डॉप्लर, डिजिटल x-ray डिजिटल OPG, एडवांस पैथोलॉजी लैब, आइसोलेशन वार्ड तथा डायलिसिस की सुविधा उपलब्ध रहेगी।
यहां डॉ.बीडी अग्रवाल एवं डॉ प्रदीप जैन के निर्देशन में चिकित्सा विशेषज्ञों की टीम सुविधाएं प्रदान करेंगी। स्वयं डॉक्टर बीडी अग्रवाल (सीनियर जनरल फिजिशियन), डॉक्टर प्रिंस जैन एमडी (जनरल मेडिसिन), डॉक्टर आकांक्षा जैन एमडी (क्रिटिकल केयर एवं एनेस्थीसियोलॉजी), डॉ.निखिल जैन एमडी (एनेस्थीसिया एवं पेन मैनेजमेंट), डॉक्टर आनंद थवाईत( लेप्रोस्कोपिक एवं जनरल सर्जरी),डॉ. प्रदीप त्रिपाठी एमएस एवं एम.सी.एच (न्यूरो सर्जन), डॉ. कल्पना अहिरवाल एमएस( OBS एवं गायनेकोलॉजिस्ट) डॉ. मानस नायक एमडी (पीडियाट्रिक एवं न्यूनेटोलॉजी), डॉ. शेफाली जैन BDS,MDS (ओरल मेडिसिन एवं रेडियोलॉजी) डॉक्टर लता केंवट BPT,MPT (न्यूरोलॉजी) के द्वारा सेवाएं प्रदान की जाएंगी। डायरेक्टर डॉ. बी.डी. अग्रवाल, डॉ. प्रिंस जैन व डॉ. आकांक्षा जैन ने कहा है कि कोरबा शहर व जिले के चिकित्सा क्षेत्र में श्वेता नर्सिंग होम बेहतर स्वास्थ सुविधाएं देते हुए जनता की उम्मीदों पर खरा उतरेगा।

मल्टीस्पेशलिटी ट्रामा सुविधाएं.. अनुभवी चिकित्सकों की टीम के साथ शहर के हृदयस्थल में श्वेता नर्सिंग होम..

0

कोरबा। नगर के ख्यातिलब्ध और वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. बी डी अग्रवाल द्वारा पावर हाउस रोड में संचालित श्वेता नर्सिंग होम को नई सुविधाओं के साथ अपडेट किया गया है। अस्पताल में अब आईसीयू, मेटरनिटी वार्ड, मॉड्यूलर ऑपरेशन थियेटर समेत 50 बेड की सुविधा होगी। चिकित्सा सेवा के क्षेत्र में वर्तमान जरूरतों के मद्देनजर श्वेता नर्सिंग होम को विभिन्न चिकित्सा सुविधाओं से पूर्ण करते हुए आम जनता के हितार्थ इसका लोकार्पण किया जा रहा है।
कोरबा शहर के मध्य एक ऐसे चिकित्सा संस्थान की जरूरत महसूस की जा रही थी जहां मल्टीस्पेशल्टी ट्रामा सुविधाएं मौजूद हों तथा शहर की जनता को उपचार के लिए उनके बीच ही किफायती दरों पर सुविधाएं प्राप्त हो सकें। डॉक्टर बीडी अग्रवाल ने इस जरूरत को समझा और 40 वर्षों के अनुभव व किफायती चिकित्सा सुविधा को ध्यान रख डॉ प्रिंस जैन के साथ मिल नई चिकित्सा टीम तैयार करते हुए इस सेवा कार्य को आगे बढ़ाया है। अस्पताल में विभिन्न विशेषज्ञों के चिकित्सक अपनी सेवाएं प्रदान करेंगे।
श्वेता नर्सिंग होम में उपलब्ध सुविधाओं में जनरल मेडिसिन, स्त्री एवं प्रसूति रोग, नवजात एवं शिशु रोग, मैक्सिलोफेशियल एवं दंत रोग, दर्द निवारण, हृदय रोग, पेट रोग, गुर्दा रोग, मस्तिष्क रोग, मूत्र रोग, गैस्ट्रोइंटेस्टेनिअल सर्जरी, यूरोलॉजी एवं यूरो सर्जरी, जनरल सर्जरी, डायलिसिस, नाक-कान-गला रोग एवं मनोरोग के विभाग उपलब्ध होंगे तथा इनके मरीजों को सुविधाएं प्रदान की जाएंगी।
अत्याधुनिक सुविधाओं में ट्रामा एवं आपातकालीन सुविधा, हड्डी एवं जोड़ प्रत्यारोपण सर्जरी, 2D इको,ईसीजी टीएमटी, ईईजी, सोनोग्राफी एवं कलर डॉप्लर, डिजिटल x-ray डिजिटल OPG, एडवांस पैथोलॉजी लैब, आइसोलेशन वार्ड तथा डायलिसिस की सुविधा उपलब्ध रहेगी।
यहां डॉ.बीडी अग्रवाल एवं डॉ प्रदीप जैन के निर्देशन में चिकित्सा विशेषज्ञों की टीम सुविधाएं प्रदान करेंगी। स्वयं डॉक्टर बीडी अग्रवाल (सीनियर जनरल फिजिशियन), डॉक्टर प्रिंस जैन एमडी (जनरल मेडिसिन), डॉक्टर आकांक्षा जैन एमडी (क्रिटिकल केयर एवं एनेस्थीसियोलॉजी), डॉ.निखिल जैन एमडी (एनेस्थीसिया एवं पेन मैनेजमेंट), डॉक्टर आनंद थवाईत( लेप्रोस्कोपिक एवं जनरल सर्जरी),डॉ. प्रदीप त्रिपाठी एमएस एवं एम.सी.एच (न्यूरो सर्जन), डॉ. कल्पना अहिरवाल एमएस( OBS एवं गायनेकोलॉजिस्ट) डॉ. मानस नायक एमडी (पीडियाट्रिक एवं न्यूनेटोलॉजी), डॉ. शेफाली जैन BDS,MDS (ओरल मेडिसिन एवं रेडियोलॉजी) डॉक्टर लता केंवट BPT,MPT (न्यूरोलॉजी) के द्वारा सेवाएं प्रदान की जाएंगी। डायरेक्टर डॉ. बी.डी. अग्रवाल, डॉ. प्रिंस जैन व डॉ. आकांक्षा जैन ने कहा है कि कोरबा शहर व जिले के चिकित्सा क्षेत्र में श्वेता नर्सिंग होम बेहतर स्वास्थ सुविधाएं देते हुए जनता की उम्मीदों पर खरा उतरेगा।

शादी के दिन बीमार हो गया मंत्री का बेटा, दुल्हन करती रही इंतजार, मंत्री बोले- बेटे को हो गया है…

0

न्यूज डेस्क।उत्तर प्रदेश के आगरा में कारागार मंत्री का बेटा शादी के दिन बीमार हो गया. दुल्हन बारात का इंतजार ही करती रही. दूल्हे को आगरा के अस्पताल में भर्ती कराया गया है. कारागार मंत्री ने कहा कि उनके बेटे की तबीयत ठीक नहीं है, वह अस्पताल में है, उसे डेंगू हो गया है. उन्होंने कहा कि बेटे के ठीक होने पर शादी कर दी जाएगी.

जानकारी के अनुसार, प्रदेश सरकार के होमगार्ड्स एवं कारागार मंत्री धर्मवीर प्रजापति के बेटे दिलीप की शादी मुड़ी जहांगीर पुरी खंदौली के रहने वाले ठेकेदार जयराम प्रजापति की बेटी के साथ तय हुई थी. दो दिसंबर को खंदौली की माया देवी वाटिका में मंडप सजाया गया.

घर के लोगों ने मेहमानों को कार्ड बांट दिए. लड़की पक्ष ने मैरिज गार्डन में दावत का इंतजाम किया. घराती और बाराती दावत का लुत्फ ले रहे थे और बारात का इंतजार किया जा रहा था.

लड़की पक्ष देर रात तक करता रहा बारात का इंतजार.

इस दौरान रात ज्यादा हो जाने पर भी जब बारात दुल्हन के दरवाजे पर नहीं पहुंची तो दुल्हन के परिजन ने मंत्री के परिवार से संपर्क किया. इस पर उन्हें बताया गया कि दूल्हे दिलीप की तबीयत ज्यादा खराब है. दिलीप को डेंगू हो गया है. वह सिकंदरा क्षेत्र के नेशनल हॉस्पिटल के आईसीयू वार्ड में भर्ती है. दूल्हे की तबीयत खराब होने की जानकारी मिलते ही दुल्हन पक्ष के लोग भी अस्पताल पहुंच गए.

गांव में तरह-तरह की हो रहीं चर्चाएं

हालांकि ऐसा क्यों हुआ? इस बात को लेकर गांव में तरह-तरह की चर्चाएं हो रही हैं. सूत्रों का कहना है कि गांव में पंचायत के बाद दिलीप और ज्योति की शादी तय हुई थी. अब अचानक शादी वाले दिन दूल्हे दिलीप की तबीयत खराब हुई है तो लोगों अपने-अपने कयास लगाने शुरू कर दिए हैं. इस मामले को लेकर वर और वधू पक्ष ने कैमरे के सामने कोई जानकारी मीडिया से साझा नहीं की है.

वहीं मंत्री धर्मवीर प्रजापति का एक वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया है. वीडियो मथुरा जिला कारागार का बताया जा रहा है, जिसमें मंत्री धर्मवीर प्रजापति कह रहे हैं कि बंदियों का कार्यक्रम था, इसलिए आना पड़ा. मेरे बेटे की तबीयत बहुत खराब है. बेटा आईसीयू में भर्ती है.

मंत्री बोले- बेटे के ठीक होने पर कर दी जाएगी शादी

इस मामले में मंत्री धर्मवीर प्रजापति ने कहा कि शादी हो रही थी. बेटे 4-6 दिन पहले बुखार आया था, तो उसने कहीं से दवाई ले ली थी. इसके बाद कल जब पंडित जी शादी से जुड़ी कुछ रस्मे करवा रहे थे, तभी बेटा बेहोश हो गया. उसे आनन-फानन में अस्पताल में भर्ती कराया गया. मंत्री ने कहा कि बारात नहीं पहुंची तो तरह-तरह की बातें हो रही हैं, जबकि ऐसा कुछ भी नहीं है. बेटा ठीक हो जाएगा तो शादी कर देंगे.

अनुशासन व खेल भावना से खेलने वाले खिलाड़ियों की होती है हमेशा जीत -संगीता रानी

0

कोरबा। केंद्रीय विद्यालय क्रमांक 02 में शनिवार को अंतर्विद्यालयी लघु खेल कूद का आयोजन किया गया। जिसमें विद्यालय के खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया। खेल कार्यक्रम का शुभारंभ संगीता रानी दास ने किया और खिलाड़ियों को खेल के अनुशासन व खेल भावना से खेलने के लिए प्रेरित किया।

बता दें कि केंद्रीय विद्यालय क्रमांक 02 एनटीपीसी में अंतर्विद्यालयी लघु खेल कूद का आयोजन किया गया।प्रतियोगिताओं में 200 छात्र छात्राये शामिल हुए ।यह कार्यक्रम केंद्रीय विद्यालय क्रमांक 02 द्वारा अंतर्विद्यालय लघु खेल कूद कार्यक्रम का आयोजन किया गया। केंद्रीय विद्यालय स्कूल एवं सुभाष चंद्र बोस स्टेडियम में संपन्न हुआ,जिसमे केंद्रीय विद्यालय क्रमांक 02,व03 एवं 04 के लगभग 200 छात्र छात्राओं ने भाग लेकर अपने प्रतिभा को प्रदर्शित किया।केंद्रीय विद्यालय क्रमांक 02 के मुख्य अध्यापिका संगीता रानी दास ने जानकारी देते हुए कही केंद्रीय विद्यालय क्रमांक 02 के प्राचार्या एमएस राव के मार्गदर्शन में अंतर्विद्यालय लघु खेलकूद कार्यक्रम आयोजित की गई है जो की विद्यालय के लिए गौरव की बात है।इस कार्यक्रम में तीन केंद्रीय विद्यालय के 200 छात्र छात्राओं ने हिस्सा लिया है।इसमें मुख्य रूप से सौ मीटर दौड़,80 मीटर दौड़,50 मीटर दौड़,30 मीटर दौड़, बॉल थ्रो, लॉन्ग जंप,खो- खो,कबड्डी खेल आयोजित की गई है। कार्यक्रम में विभिन्न केंद्रीय विद्यालय के प्रतिभागी छात्र छात्रा,शिक्षक,शिक्षिकाएँ,रेफरी सहित अन्य छात्र छात्रा मौजूद रहे।

पति को रोजाना ‘मौत’ परोस रही थी पत्नी, 17 दिन में गई जान, हैरान कर देगी मुंबई मर्डर की मिस्ट्री

0

न्यूज डेस्क। मायानगरी मुंबई के सांताक्रुज इलाके में एक सनसनीखेज वारदात सामने आई है. यहां मुंबई क्राइम ब्रांच ने कविता नाम की एक महिला और उसके प्रेमी हितेश जैन को अपने पति कमल कांत शाह की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया है. दरअसल कविता अपने पति के खाने में लगातार आर्सेनिक और थैलियम मिला रही थी. धीमे जहर के कारण कमलकांत को 3 सितंबर को अस्पताल में भर्ती कराया गया और 17 दिन बाद उसकी मौत हो गई.

शक हुआ तो डॉक्टर्स ने पुलिस को दी शिकायत

शक के आधार पर डॉक्टर्स ने खुद पुलिस को शिकायत की थी. जिसके बाद मुंबई क्राइम ब्रांच की यूनिट-9 ने एक महिला और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है. महिला पर आरोप है कि उसने अपने प्रेमी के साथ मिलकर अपने पति 45 वर्षीय कमल कांत शहा को मौत की नींद सुला दिया. फिलहाल दोनों आरोपियों को 8 दिसंबर तक के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है.

शरीर में हद से ज्यादा बढ़ा हुआ था आर्सेनिक और थैलियम

दरअसल, 3 सितंबर 2022 को बॉम्बे हॉस्पिटल में कमलकांत को इलाज के लिए भर्ती किया गया था और 19 सितम्बर तक कमलकांत यहां भर्ती रहे, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका. लेकिन कमलकांत की जिस तरह से मौत हुई, उसे डॉक्टर नहीं पचा पा रहे थे. इलाज के दौरान ही डॉक्टर्स की टीम ने कमलकांत के खून का हेवी मेटल टेस्ट कराया और उस टेस्ट की रिपोर्ट ने डॉक्टर्स के शक को और गहरा कर दिया. क्योंकि रिपोर्ट में आर्सेनिक और थैलियम धातु का स्तर शरीर मे बढ़ा हुआ था. किसी भी इंसान के शरीर मे इस तरह से इन धातुओं का बढ़ना असामान्य बात होती है. इसलिए डॉक्टर्स ने आजाद मैदान पुलिस स्टेशन को इसकी जानकारी दी. आज़ाद मैदान पुलिस ने केस दर्ज कर सांताक्रुज पुलिस स्टेशन को आगे की जांच के लिए केस हैंड ओवर कर दिया.

खाने में धीरे- धीरे जहर दे रही थी पत्नी

जांच आखिरकार सांताक्रुज पुलिस स्टेशन के बजाय क्राइम ब्रांच यूनिट 9 को सौंपी गई. क्राइम ब्रांच ने जांच शुरू की और तमाम मेडिकल रिपोर्ट, पत्नी सहित घरवालों के बयान लिए. साथ ही कमलकांत के डाइट से जुड़ी जानकारी भी जुटाई तो पता चला कि पत्नी कविता ने प्रेमी हितेश के साथ प्लानिंग करके पति को हटाने की साजिश रची थी. जिसके लिए लंबे समय से कमलकांत के खाने और पीने के चीजों में बड़ी ही चालाकी से आर्सेनिक व थैलियम मिलाकर दिया जा रहा था. शरीर के अंदर ये धातु ब्लड में पहले से ही मौजूद रहते हैं लेकिन सामान्य से ज्यादा हो जाए तो ये जहर का काम करता है और यही कमलकांत के साथ हुआ. लगातार खाने पीने में मिल रहे स्लो पॉइजन के चलते कमल की हालत खराब होते चली गई.

पति की हत्या कर प्रेमी के साथ खाई खीर- पूड़ी

बता दें कि बीते माह राजस्थान में इसी तरह का एक मामला सामने आया था. यहां भरतपुर में एक महिला ने प्रेमी संग मिलकर पति की बेरहमी से हत्या कर दी थी. पुलिस ने बताया कि 29 मई 2022 को रीमा ने प्रेमी भागेंद्र संग मिलकर पति पवन की हत्या कर दी. फिर पवन के शव को बेड पर रखा और किचन में जाकर खाने में पूरी-सब्जी और खीर बनाई. उसके बाद भागेंद्र के साथ मिलकर खाना खाया और रात में ही शव को पास की नहर में फेंक दिया. रीमा कत्ल की घटना को 6 महीने तक छुपाती रही. ताकि किसी को शक न हो इसलिए रीमा ने 13 अक्टूबर को पवन के लिए करवा चौथ का व्रत भी रखा. मामले का खुलासा तब हुआ जब शक होने पर पवन के पिता ने बेटे की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई.

पुलिस ने बताया कि 4 जून 2022 के दिन पवन के पिता हरिप्रसाद ने चिकसाना थाने में बेटे की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी. पुलिस और परिजन पवन को ढूंढते रहे, लेकिन उसका पता नहीं लग पाया. इसी बीच 16 अक्टूबर की रात ससुर ने बहु को प्रेमी के साथ रंगे हाथ पकड़ लिया. शक के आधार बहू और प्रेमी के खिलाफ ससुर ने हत्या का मामला दर्ज करवा दिया.

Breaking : राज्य सरकार ने इन्हें किया भारमुक्त.. कलेक्टरों को दिया…

0

रायपुर।छत्तीसगढ़ सरकार ने सितंबर महीने में कई कर्मचारियों का तबादला नव नियुक्त जिले खैरागढ़-छुईखदान-गण्डई, मोहला-मानपुर-अम्बागढ़ चौकी, सारंगढ़-बिलाईगढ़, सक्ती और मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर में किया था लेकिन दिसंबर के शुरूआती माह के बाद भी इन कर्मचारियों को भारमुक्त नहीं किया गया है।

जिसके बाद राज्य सरकार ने आदेश जारी करते हुए सभी जिला कलेक्टरों को आदेश जारी किया जिसमे 7 दिनों के भीतर सभी कर्मचारियों को भारमुक्त करने और राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग को इसकी सूचना देने की बात कही है।

Breaking: 12 थाना प्रभारियों का तबादला..पढ़े कौन कहाँ…

0

बिलासपुर। एसएसपी पारुल माथुर ने 12 थाना प्रभारियों के प्रभार में फेरबदल करते हुए नवीन पदस्थापना आदेश जारी किया है।

बात दें कि विभागीय कामकाज में कसावट लाने के बिलासपुर एसएसपी पारुल माथुर ने 8 निरीक्षक और4 उपनिरीक्षकों का तबादला आदेश जारी किया है।

आदेश की कॉपी…

 

error: Content is protected !!