Thursday, March 30, 2023
Home Blog

Korba : गुरुजी रोड में और DEO कोर्ट में..प्रमोशन ,पोस्टिंग में उलझा शिक्षा विभाग..शिक्षा के स्तर का बंटाधार…

0

कोरबा। कोरबा जिले के शिक्षक सड़क पर आंदोलन कर रहे है और डीईओ कोर्ट के चक्कर यानी हाईकोर्ट में शिक्षकों के लगे केस लिए चक्कर लगा रहे है। प्रमोशन से पोस्टिंग में लगातार उलझे शिक्षा विभाग के बीच शिक्षा के स्तर का बंटाधार हो गया है।

बता दें कि शिक्षा विभाग के प्रमोशन से पोस्टिंग में गड़बड़ी का मामला अब डीईओ के गले की फांस बनता जा रहा है। कायदे को अपने फायदे में तब्दील कर पोस्टिंग तो कर दी गई लेकिन हो-हल्ला मचने के बाद कलेक्टर ने पोस्टिंग की सूची निरस्त कर दी। सूची निरस्त होने के बाद जिनको लाभ मिल रहा था वे कोर्ट पहुंच गए और कोर्ट ने तात्कालिक रूप से राहत दे दी। इसके बाद जिनको राहत मिली उनकी तो मौज हो गई लेकिन जिन्हें पोस्टिंग नही मिली वे अधर में  लटके रहे। अब जब जिनको कोर्ट से तात्कालिक रूप से राहत मिली थी,।उसे कोर्ट ने निरस्त कर दिया तो नाराज शिक्षकों का एक गुट हल्ला बोलते हुए डीईओ के खिलाफ सड़क पर उतर आया है।

डीईओ ने अपनी सेफ्टी के लिए नए फार्मूले का किया अविष्कार

 

प्रमोशन के बाद पोस्टिंग के लिए चले “दो और लो” की नीति के बाद चहेते जगह में शिक्षकों की पोस्टिंग तो कर दी गई । कलेक्टर के द्वारा सूची निरस्त करने के 6 महीने बाद अब फिर से काउंसलिंग की मांग ने जोर पकड़ा तो डीईओ ने अपनी सेफ्टी के लिए नए फार्मूले का अविष्कार  कर लिया है। फार्मूला भी ऐसा कि असलियत समझ आते ही “दिल बाग बाग हो जाए!” फार्मूला ये है जो अपने मनपसंद जगह पर पदस्थ है उनसे संतुष्टि प्रमाण पत्र जमा कराया जा रहा है जिससे पोस्टिंग के नाम पर लिए नजराना  को वापस न करना पड़े।

 

डीईओ को बर्खास्त करने की मांग

 

कायदे को ताक पर रखकर अपने फायदे के लिए पोस्टिंग करने वाले डीईओ जीएल भारद्वाज को हटाने की मांग को लेकर नाराज शिक्षकों ने मोर्चा खोल दिया है। बुधवार को नाराज शिक्षको ने नारेबाजी करते हुए कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपकर डीइओ पर भ्रष्टाचार में लिप्त होने के आरोप लागये है।सूत्र बताते है शिक्षा विभाग में चले प्रमोशन और पोस्टिंग के खेल में अफसर तो मालामाल हुए है लेकिन ग्रामीण अंचलो में पढ़ने वाले बच्चों का भविष्य अंधकारमय हो गया है।

Car Accident : खंभे से टकराते ही कार के उड़े परखच्चे…दीपका के तीन लोग गंभीर

0
Car Accident: As soon as the car collided with the pillar, it flew away ... Deepka's three people were serious
Car Accident

कोरबा। Car Accident : कटघोरा-अम्बिकापुर हाइवे-130 मार्ग के ग्राम बंजारी के पास तेज रफ्तार कार के सड़क किनारे लगे खंभे से टकराने की घटना में दीपका के तीन लोग गंभीर हो गए।

कटघोरा-अम्बिकापुर हाइवे-130 मार्ग पर बांगो के ग्राम बंजारी के पास तेज रफ्तार कार सड़क किनारे बिजली के खंभे से टकरा गई। इसके बाद सड़क किनारे खड़े ट्रक में जा घुसी। कार में 6 लोग सवार थे। जिसमें 3 लोग की गंभीर रूप से घायल हो गए। कार सवार सभी लोग दीपका थाना क्षेत्र के ग्राम तिवरता से प्रेमनगर (सूरजपुर) परिक्षा दिलाने जा रहे थे। उसी बीच ये हादसा हुआ है। घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पोड़ी (Car Accident) उपरोड़ा में भर्ती किया गया है।

Breaking IPS Suspend : पहली बार हिरासत में किसी IPS ने तोड़े आरोपी के दांत…CM ने कही ये बड़ी बात

0
Breaking IPS Suspend: For the first time in custody, an IPS broke the teeth of the accused… CM said this big thing
Breaking IPS Suspend

चेन्नई। Breaking IPS Suspend : तमिलनाडु के तिरुनेलवेली जिले में एक आईपीएस ऑफिसर पर हिरासत में आरोपियों को टॉर्चर करने का आरोप है। हिरासत में लिए गए तीन लोगों ने असिटेंट सुप्रीडेंट ऑफ पुलिस बलवीर सिंह आईपीएस पर उनके दांत तोड़ने का गंभीर आरोप लगाया। घटना का वीडियो वायरल हो रहा है। मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने बुधवार को विधानसभा में बताया कि उन्होंने अधिकारियों को बलवीर सिंह को निलंबित करने का आदेश दिया है।

तमिलनाडु में हिरासत में प्रताड़ित करने के आरोप में भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के अधिकारी बलबीर सिंह को निलंबित कर दिया गया है। मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने बुधवार को विधानसभा को बताया कि उन्होंने प्राधिकारियों को हिरासत में प्रताड़ित करने के आरोपी आईपीएस अधिकारी बलवीर सिंह को निलंबित करने का आदेश दिया है। विपक्ष के नेता ई के पलानीस्वामी ने पार्टी के एक पदाधिकारी की कुछ दिनों पहले हत्या का मुद्दा उठाया और कड़ी कार्रवाई की मांग की। उन्होंने कहा कि पदाधिकारी को इसलिए मार डाला गया, क्योंकि वह नशे के खिलाफ थे। अन्य विधायकों ने आईपीएस अधिकारी द्वारा हिरासत में व्यक्तियों को कथित रूप से प्रताड़ित करने, जैसे गिरफ्तार व्यक्तियों के दांत प्लास से निकालने जैसे कृत्य में लिप्त होने के मुद्दे पर विशेष ध्यानाकर्षण प्रस्ताव पेश किया।

पूछताछ के दौरान तोडे दांत

विपक्षी पार्टी के नेताओं के प्रस्ताव पर जवाब देते हुए मुख्यमंत्री स्टालिन ने कहा कि अन्नाद्रमुक कार्यकर्ता एलंगो की हत्या के लिए पुरानी दुश्मनी को जिम्मेदार ठहराया गया है और इस सिलसिले में एक किशोर सहित पांच व्यक्तियों को दो घंटे के भीतर गिरफ्तार कर लिया गया। इस आरोप के बाद कि तिरुनेलवेली जिले के अंबासमुद्रम पुलिस सब-डिवीजन में सहायक पुलिस अधीक्षक के रूप में कार्यरत आरोपी अधिकारी ने पूछताछ के लिए लाए गए कुछ व्यक्तियों के ‘दांत तोड़ दिए मुख्यमंत्री ने कहा कि उप- कलेक्टर, सब-डिवीजनल मजिस्ट्रेट द्वारा एक जांच आदेश दे दिया गया है, उन्होंने कहा कि जांच शुरू हो गई है और बलवीर सिंह को ‘वैकेंसी रिजर्व (पदस्थापना प्रतीक्षा सूची) में डाल दिया गया है।

स्टालिन ने कहा कि वह पहले ही सदन को सूचित कर चुके हैं कि सरकार पुलिस हिरासत के दौरान मानवाधिकारों के उल्लंघन के आरोपों के मामले में कोई समझौता नहीं करेगी। स्टालिन ने कहा कि उन्होंने उसी के अनुसार एएसपी बलवीर सिंह को निलंबित करने का आदेश दिया था। उन्होंने कहा कि ऐसे सभी मामलों में तुरंत त्वरित कार्रवाई की गई है। मुख्यमंत्री ने सदन को आश्वासन दिया कि मामले की पूरी जांच रिपोर्ट प्राप्त होने पर उचित कार्रवाई की जाएगी।

मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार, एसाक्की सुबाया (अन्नाद्रमुक से संबंधित अंबासमुद्रम निर्वाचन क्षेत्र का (प्रतिनिधित्व करते हैं), एम एच जवाहिरुल्लाह (द्रमुक), टी वेलमुरुगन (द्रमुक) और वी पी नगाइमाली (माकपा) सहित विधायकों ने इस मामले पर अपनी बात रखी। वेलमुरुगन ने यह कहते हुए जांच की मांग की कि यह कहा जा रहा है कि अधिकारी के खिलाफ आरोप सामने इसलिए आए, क्योंकि उन्होंने कथित तौर पर अपने अधिकार क्षेत्र में अवैध गतिविधियों को रोकने के लिए कदम उठाए थे। अन्य विधायकों ने मांग की कि अधिकारी को गिरफ्तार किया जाए और सेवा से बर्खास्त (Breaking IPS Suspend) किया जाए।

बड़ी खबरः हो सकती है किसी बड़े अधिकारी की गिरफ्तारी

0

रायपुर। छत्तीसगढ़ में ईडी की जांच लगभग पूरी हो चुकी है। शराब कारोबार से जुड़े कुछ ठेकेदारों के अलावा एक अधिकारी को ईडी की टीम दफ्तर लेकर पहुंची है। ऐसे में इनकी गिरफ्तारी की अटकलें तेज हो गई हैं।

हालांकि अब तक इसकी अधिकारिक पुष्टी नहीं हो सकी है। बता दें कि ईडी की टीम ने मंगलवार को एक साथ राजधानी रायपुर समेत दुर्ग, भिलाई, रायगढ़ और बिलासपुर में जांच शुरू की थी। मगर बुधवार को ईडी ने जांच का दायरा आगे बढ़ाते हुए शराब के कारोबार से जुड़े कारोबारियों और अधिकारियों के यहां छापेमारी की।

ईडी का कार्रवाई कल देर रात तक चलती रही। एक दो स्थानों पर गुरुवार की सुबह भी ईडी की टीम के पहुंचने की खबर है।

VIDEO Big Accident in Indore : रामनवमी पर इंदौर में बड़ा हादसा…! छत ढहने से बावड़ी में गिरे कई श्रद्धालु…देखें वीडियो

0
VIDEO Big Accident in Indore: Big accident in Indore on Ram Navami...! Many devotees fell into the stepwell due to roof collapse...watch video
VIDEO Big Accident in Indore

इंदौर। Big Accident in Indore : रामनवमी के मौके पर इंदौर में एक बड़ा हादसा हो गया है। दरअसल, श्री बेलेश्वर महादेव झूलेलाल मंदिर में छत ढहने से कुछ श्रद्धालु बावड़ी में गिर गए, जिन्हें बचाने का कार्य जारी है। बताया जा रहा है कि अधिकारियों को इस बावड़ी की कोई जानकारी नहीं थी, हादसे के बाद उन्हें इसका पता चला है।

25 श्रद्धालु बावड़ी में गिरे

इंदौर के स्नेह नगर के पास पटेल नगर में श्री बेलेश्वर महादेव झूलेलाल मंदिर में रामनवमी के मौके पर भारी संख्या में लोग दर्शन के लिए आए थे। उसी दौरान बावड़ी के ऊपर की छत अचानक ढह गई और लगभग 25 लोग बावड़ी में गिर गए।

हवन के दौरान ढह गई छत

फिलहाल, घायल हुए लोगों को बचाने का काम जारी है। निगम अफसरों के मुताबिक, बावड़ी 40 फीट गहरी है, उस पर लोहे की जाली थी। इसकी चौड़ाई एक कमरे के बराबर है। लोहे की जाली पर स्लैब डालकर इसका निर्माण किया गया था। हवन के दौरान बावड़ी की छत पर ज्यादा लोगों के होने से जाली टूट गई और हादसा हो गया।

jagran

तंग गलियों के कारण बचाव कार्य में हो रही परेशानी

इस हादसे के तुरंत बाद पूरे क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गई। बताया जा रहा है कि तंग गलियां होने से राहत कार्य में थोड़ी परेशानी आ रही है। एंबुलेंस व 108 की गाड़ी निकलने में भी परेशानी हो रही है। बावड़ी में गिरे कुछ लोगों को जैसे-तैसे बाहर निकाला गया है। कलेक्टर और प्रशासन की टीम सूचना मिलते ही यहां पहुंच गए।

बावड़ी में लोगों को पहुंचाया जा रहा ऑक्सीजन

घटनास्थल की स्थिति काफी खराब है। हादसे का शिकार (Big Accident in Indore) हुए लोगों के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। बताया जा रहा है कि बावड़ी में से महिला और बच्ची समेत आठ लोगों को बाहर निकाला जा चुका है। अन्य लोगों के लिए ऑक्सीजन सप्लाई की गई है। हादसे के बाद से ही लोगों में काफी आक्रोश है। अब तक कई बच्चे और महिलाएं बावड़ी में ही फंसे हुए हैं।

Daughter Murdered : पिता ने शिक्षक बेटी को पहले मारी गोली फिर खुद भी की खुदकुशी…जानें क्यों

0
Daughter Murdered: Father first shot teacher's daughter and then committed suicide
Daughter Murdered

कासगंज। Daughter Murdered : उत्तरप्रदेश के जनपद कासगंज में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। शहर की पॉश कॉलोनी में रहने वाले सरकारी कॉलेज के लेक्चरर ने अपनी टीचर बेटी की गोली मारकर हत्या कर दी। फिर खुद भी खुदकुशी कर के जनपद कासगंज में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। शहर की पॉश कॉलोनी में रहने वाले सरकारी कॉलेज के लेक्चरर ने अपनी टीचर बेटी की गोली मारकर हत्या कर दी। फिर खुद भी खुदकुशी कर (Daughter Murdered) ली। बेटी के लव मैरिज करने की जिद के चलते पिता ने यह खौफनाक कदम उठाया। फिलहाल पुलिस मामले की जांच पड़ताल कर रही है।

दरअसल, मैनपुरी जिले के रहने वाले नरेंद्र सिंह यादव कासगंज स्थित नगरिया में शेरवानी इंटर कॉलेज भौतिज्ञ विज्ञान (फिजिक्स) के लेक्चरर थे। उन्होंने करीब 25 साल पहले कासगंज शहर के सदर कोतवाली इलाके में मौजूद आवास विकास कॉलोनी में ही अपना मकान बनवा लिया था। घर में नरेंद्र यादव के अलावा उनकी पत्नी शशि यादव, बेटी जूही यादव और एक बेटा रहते थे। बेटा फिलहाल नोएडा में एसएससी की तैयारी कर रहा है। बेटी जूही यादव कासगंज जिले के ही मिर्जापुर प्राइमरी स्कूल में टीचर थी।

पहले बेटी को मारी गोली फिर खुद भी किया सुसाइड

जूही अपनी पसंद से शादी करना चाहती थी। यह बात पिता को नापसंद थी। उन्होंने बेटी को काफी समझाया बुझाया, लेकिन वह अपनी जिद पर अड़ी हुई थी। जूही ने साफ शब्दों में मां शशि के सामने अपने पिता को जवाब देते हुए कह दिया, ”मैं पढ़ी-लिखी हूं। मैं अपना निर्णय स्वयं लूंगी, क्योंकि अपने पैरों पर खड़ी हूं।”

यह बात सुनकर पिता नरेंद्र यादव आगबबूला हो गए और वह कमरे में चले गए। बाद में लाइसेंसी रायफल निकालकर लाए और फायर कर दिया। इस दौरान जूही ने गोली से बचने के लिए रायफल की नाल पर हाथ लगाया। मगर, गोली हथेली को चीरती हुई उसके सीने में धंस गई। लड़की वहीं अचेत होकर गिर पड़ी। 

बाद में लेक्चचर पिता ने भी खुद रायफल की नाल को गले पर सटाकर ट्रिगर दबा दिया और खून से लथपथ जमीन पर गिर पड़े। पति और बेटी की यह हालत देख महिला शशि ने चिल्लाना शुरू किया, तो आसपास के लोग भी एकत्रित होकर उनके घर में पहुंच गए। वहां से खून से लथपथ पिता-पुत्री को अस्पताल ले जाया गया। मगर, डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया।

मौके पर पहुंची फोरेंसिक की टीम

घटना की जानकारी मिलते ही एसपी सौरभ दीक्षित पुलिस और फोरेंसिक टीम मौके पर पहुंच गई। घटनास्थल से साक्ष्यों को एकत्रित कर हत्या और आत्महत्या की वजह जानी गई। वहीं, पुलिस ने अस्पताल में दोनों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा और फिर परिजनों के सुपुर्द कर दिया।

लेक्चचर नरेंद्र सिंह यादव के ज्यादा करीबी रहे मनोज चौहान ने बताया कि एक बैंक एकाउंटेंट से जूही के प्रेम प्रसंग की चर्चा चल रही थी। इसकी वजह से लड़की के पिता खासे परेशान थे। इसी बदनामी और लोकलज्जा के डर से नरेंद्र बड़ी वारदात को अंजाम दे बैठे। कासगंज एसपी सौरभ दीक्षित के मुताबिक, घटना की गंभीरता देखते हुए तत्काल स्थानीय पुलिस और सभी उच्च अधिकारी समेत फील्ड यूनिट मौके पर पहुंची। गोली लगने के बाद अचेत पड़ी बेटी और पिता को उपचार के लिए जिला अस्पताल भेजा गया था। डॉक्टर ने दोनों को मृत घोषित कर दिया।

नरेंद्र यादव की पत्नी शशि ने प्रारंभिक पूछताछ (Daughter Murdered) में बताया कि परिवारिक विवाद को लेकर नरेंद्र यादव की उनकी बेटी जूही से हल्की-फुल्की मारपीट हो गई थी। बात बढ़ जाने के बाद नरेंद्र आवेश में आ गए और उन्होंने अलमारी से एक लाइसेंसी बंदूक को निकालकर पहले बेटी में गोली मार दी और फिर खुद को गोली मार ली। इस पूरे मामले में उनके परिवारजनों से लिखित तहरीर ली जा रही है। उसी के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Ruckus Of Married Woman : प्रेमी से शादी करने विवाहिता ने थाने में जमकर किया हंगामा…देखें किस हद तक गई

0
Ruckus Of Married Woman: The married woman created a ruckus in the police station to marry her lover… see to what extent it went
Ruckus Of Married Woman

हमीरपुर। Ruckus Of Married Woman : उत्तरप्रदेश के हमीरपुर जिले में एक अजीबो-गरीब मामला सामने आया है। इसे देख और सुनकर लोग हैरान हो गए। दरअसल, एक शादीशुदा महिला प्रेमी से शादी की अर्जी लेकर कोतवाली पहुंची और सीओ के सामने हंगामा करने लगी। महिला ने कुर्सियां पटकीं, मोबाइल तोड़ा और जमीन पर लोटपोट होकर चीखने लगी।

महिला का मानसिक संतुलन ठीक नहीं लगता- सीओ

परिजनों ने बड़ी मुश्किल से महिला को काबू किया और अपने साथ लेकर गए। जानकारी के मुताबिक, सीओ पीके सिंह असलहा फैक्ट्री से संबंधित प्रेसवार्ता करने के लिए कोतवाली में थे। जैसे ही वह मीडिया को संबोधित करने वाले थे, तभी बसेला गांव निवासी अनिल शर्मा की पत्नी काजल शर्मा कोतवाली पहुंचीं। काजल ने बताया कि 18 फरवरी 2022 को उनकी शादी हुई थी। मगर, वह अपने प्रेमी गुड्डू के साथ शादी करना चाहती थी। कुछ देर बाद वह उत्तेजित हो गई और शोर-शराबा करने लगी। महिला ने सीओ के सामने जमकर उत्पात मचाया।

दो महिला कांस्टेबलों ने उसे बड़ी मुश्किल से काबू किया। एक महिला कांस्टेबल नीचे गिर गई। महिला कांस्टेबल किसी तरह उसे पकड़कर केबिन में ले गईं। फिर वह थोड़ा शांत हुई। सीओ ने कहा महिला की हरकतें देखकर लगता है कि उसका मानसिक संतुलन ठीक नहीं है। उसे मायके और ससुराल पक्ष के सुपुर्द कर दिया गया है।

महिला को डॉक्टर की सहायता की जरूरत- पुलिस

इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। पुलिस का कहना है कि इस महिला को डॉक्टर की सहायता की जरूरत है। उसे तुरंत ही इलाज की जरूरत (Ruckus Of Married Woman) हैं। परिजन ने कहा कि उसे जल्द ही डॉक्टर को दिखाया जाएगा।

Naxali Kartoot : नारायणपुर जिला से बड़ी खबर…! नक्सलियों ने गांव से उठाया पूर्व उप सरपंच को फिर जंगल में ले जाकर…?

0
Naxali Kartoot: Big news from Narayanpur district…! Naxalites picked up the former Deputy Sarpanch from the village and then took him to the forest…?
Naxali Kartoot

नारायणपुर। Naxali Kartoot : नक्सल प्रभावित नारायणपुर जिला से बड़ी खबर सामने आ रही हैं। यहां नक्सलियों ने गांव के पूर्व उप सरपंच को घर से अगवा करने के बाद हत्या कर दिया हैं। नक्सलियों की इस करतूत के बाद क्षेत्र में दहशत का माहौल व्याप्त हैं। वही इस हत्याकांड के बाद नक्सलियों ने क्षेत्र में पर्चे भी फेंके हैं, जिसमे मृतक ग्रामीण को पुलिस का मुखबिर होने के कारण उसकी हत्या करने की बात कही हैं। हत्या की इस वारदात के बाद पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गये हैं। पुलिस घटना की जांच कर रही हैं।

नक्सल प्रभावित नारायणपुर जिला में ग्रामीण की हत्या की ये वारदात धनोरा थाना क्षेत्र का हैं। बताया जा रहा हैं कि राजपुर ग्राम पंचायत के पूर्व उपसरपंच रामजी दोदी के घर मंगलवार की रात माओवादी पहुंचे थे। पुलिस का मुखबिर होने की बात कहकर माओवादियों ने पूर्व उपसरपंच को घर से अगवा करने के बाद झारा के जंगल में ले गये। बताया जा रहा हैं कि यहां माओवादियों ने पूर्व उपसरपंच की नृशंस हत्या करने के बाद लाश को फेंककर फरार हो गये।

बताया जा रहा हैं कि हत्या (Naxali Kartoot) की इस वारदात के बाद माओवादियों ने बकायदा घटनास्थल पर पर्चा भी फेंका हैं। पर्चा में माओवादियों ने मृतक रामजी दोदी को पुलिस का मुखबिर होने का आरोप लगाते हुए उसकी हत्या की बात लिखी हैं। साथ ही मृतक को पहले भी दो बार अल्टीमेटम देने की बात लिखी हैं। घटना की जानकारी के बाद पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गये हैं। ग्रामीण की हत्या पर पुलिस ने अपराध दर्ज कर हत्या के कारणों की जांच शुरू कर दी हैं।

Vicious Thug : राजस्व मंत्री का PSO बताकर 2 संभ्रात महिलाओं से की शादी…देखें अब?

0
Vicious Thug: Married 2 elite women by telling PSO of Revenue Minister…see now?
Vicious Thug

बिलासपुर। Vicious Thug : राजस्व मंत्री का पीएसओ बताकर दो महिलाओं से शादी कर उनके पैसो में अय्याशी करने वाले नकली हेड काॅस्टेबल को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी पुलिस की वर्दी पहन कर लोगों को नौकरी दिलाने का झांसा देकर ठगी करता था। आरोपी का नाम यज्ञ कुमार यादव है और तखतपुर के ग्राम भैराकछार का रहने वाला है।

दरअसल, बिलासपुर पुलिस को मुखबीर से सूचना मिली थी कि एक युवक खुद को मंत्री जयसिंह अग्रवाल का पीएसओ बताकर लोगों से ठगी कर रहा है। इस सूचना के बाद एसपी संतोष सिंह ने एसीसीयू और तखतपुर थाना की टीम को जांच कर आरोपी को गिरफ्तार करने के निर्देश दिये।

जांच के दौरान पुलिस ने ग्राम भैराकछार में वर्दी पहनकर घुम रहे आरोपी को रंगे हाथों पकड़ा गया। आरोपी के कब्जे से पुलिस कांबेट वर्दी, दो नग आइडी कार्ड, लाईटर गन, पिस्टल होलेस्टर कवर जब्त किया।

ठगी करके बनावा रहा था आलीशान घर

आरोपी ने पूछताछ में बताया कि वो जूनापारा तखतपुर का रहने वाला है और उसने पुलिस कर्मचारी बताकर पहले एक शिक्षिका को प्रेम जाल में फंसाया, इसके बाद धोखे से उसके साथ शादी कर ली। शिक्षिका के पैसे से मंहगी कार खरीदी और नकली वर्दी पहन पुलिस का रौब दिखाता था। आरोपी ने ठगी के रुपयों से कोरबा में एक मकान भी बनवा रहा था।

इसी तरह यज्ञ कुमार ने एक अन्य बैंककर्मी महिला को भी अपने झांसे में फंसाकर उसके साथ प्रेम विवाह आर्य समाज में किया। आरोपी दोनों महिलाओं को धोखे में रखकर उनके साथ अलग-अलग रहता था। साथ ही दोनों महिलाओं की संपत्ति पर ऐशो आराम करता था। इतना ही नहीं आरोपी खुद को राजस्व मंत्री जय सिंह का पीएसओ बताकर पुलिस विभाग में उंची पकड़ बताते हुए लोगों को सरकारी नौकरी दिलाने का झांसा भी देता था। पुलिस के जांच में यह बात भी सामने आई है कि यज्ञ कुमार अवैध नशे की सामाग्री बिक्री कराने का प्रयास कर रहा था। आरोपी इतना शातिर था कि शादी से पूर्व अपने आपको हेड कांस्टेबल बताया था।

पुलिस ने यज्ञ कुमार यादव 37 वर्ष के खिलाफ थाना तखतपुर में धारा 170, 171, 419, 420, 467, 468, 471 भा.द.वि. का अपराध दर्ज किया। साथ ही मौके से आरोपी यज्ञ कुमार यादव के कब्जे से पुलिस कांबेट वर्दी, काले रंग का लांग बुट, बेल्ट, कैप, बैच, दो नग ID Card, एक रबर सील, एक लाईटर गन, पिस्टल होलेस्टर (कवर) को जप्त किया। आरोपी यज्ञ कुमार यादव को विधिवत गिरफ्तार किया गया है जिसे न्यायिक रिमांड पर न्यायालय (Vicious Thug) के समक्ष पेश किया जायेगा।

Extramarital Affair : अनैतिक संबंध कितना घातक…! प्यार के लिए पति को छोड़ा…प्रेमी ने भी घर से निकाला…पेरेंट्स ने भी मुंह मोड़ा और अब…? वीडियो देखें सब समझ जाएंगे

0
Extramarital Affair: How dangerous is an immoral relationship…! She left her husband for love…the lover also threw her out of the house…the parents also turned their backs and now…? watch the video you will understand
Extramarital Affair

ग्वालयिर। Extramarital Affair : प्यार के लिए पति को छोड़ दी महिला ने दो महीने प्रेमी के साथ खुशी-खुशी रही। अचानक प्रेमी ने उसे ‘डिस्पोजल’ की तरह घर से निकाल दिया। उसने अपने पति को छोड़ दिया था, इसलिए माता-पिता ने भी महिला से सारे संबंध तोड़ लिए। इस घटना का महिला के मन पर ऐसा प्रभाव पड़ा कि सदमे से पागल होकर चौराहे चौक चौराहों पर अजीब व्यवहार करने लगी।

सदमे में पागल हुई युवती

दरअसल, ग्वालियर में 2 दिन पहले बीच चौराहे पर हंगामा करने वाली युवती की दुखद दास्तान सामने आई है। युवती छतरपुर की रहने वाली है, जो अपने पति को छोड़कर प्रेमी के साथ ग्वालियर आ गई थी। 2 महीने तक प्रेमी ने युवती को अपने पास रखा, लेकिन बाद में घर से बेदखल कर दिया। प्रेमी की दगाबाजी से युवती के दिमाग पर इतना गहरा सदमा लगा कि वह बदहवास हो गई और फिर ग्वालियर के चौक चौराहों पर हंगामा करने लगी।

ग्वालियर फूलबाग चौराहा पर एक युवती ने जमकर हंगामा किया था। युवती ने चौराहे पर करीब एक घंटे तक हंगामा कर उत्पात मचाया था। युवती ने सबसे पहले एक कार सवार के साथ मारपीट की। उसके बाद एक बुजुर्ग की एक्टिवा छुड़ाकर खुद बैठकर एक्टिवा चलाने लगी। थोड़ी देर बाद युवती ने सड़क पर लगे पुलिस के बैरिकेट्स उठाकर फेंक दिए।

आखिर में युवती वहां से गुजर रही एक कार के बोनट में चढ़कर बैठ गई। इस कार में भिंड से एक महिला मरीज को जयारोग्य अस्पताल ले जाया जा रहा था, लेकिन युवती कार के ऊपर 10-15 मिनट तक बैठी रही। हंगामा देख पास ही मौजूद आशा कार्यकर्ता और महिलाओं ने इस युवती को पकड़कर नीचे उतारा। लगभग एक घंटे तक फूलबाग चौराहे पर युवती का हंगामा चलता रहा।

चौराहे पर किया हंगामा

युवती को किसी तरह से पड़ाव थाने लाया गया, जहां काउंसलर और पुलिस अधिकारियों ने जब युवती से बातचीत की तो उसने बताया कि वह छतरपुर की रहने वाली है। जब छतरपुर संपर्क किया गया तो युवती के पति ने पूरी कहानी बताई। पति ने बताया कि वह ग्वालियर के एक युवक से प्रेम करती थी और उसी के चक्कर में वह छतरपुर छोड़कर ग्वालियर चली गई। छतरपुर में उसकी गुमशुदगी दर्ज कराई गई थी, लेकिन जब पुलिस ने जांच की तो वह ग्वालियर में अपने प्रेमी के साथ मिली।

पति ने बताया कि उसकी पत्नी और प्रेमी ने उसे तलाशने से मना कर दिया था, लिहाजा बदनामी के डर से उसने भी पत्नी से ही किनारा कर लिया। अब पति ने युवती को अपनाने से इनकार कर दिया। वहीं पुलिस ने उसके प्रेमी से भी संपर्क किया, लेकिन वो नहीं आया, इधर मायके वालों ने भी पल्ला झाड़ लिया है। आखिर में प्रशासन ने कोर्ट के आदेश पर युवती को मानसिक आरोग्यशाला पहुंचाया है।

error: Content is protected !!