Tuesday, February 27, 2024
HomeBreakingLOVE, SEX, धोखा और फिर हत्या; गर्भवती प्रेमिका की प्रेमी ने गला...

LOVE, SEX, धोखा और फिर हत्या; गर्भवती प्रेमिका की प्रेमी ने गला घोंटकर दी थी हत्या..4 साल बाद खुला राज, आरोपी गिरफ्तार…

कोरबा। आदिवासी अंचल रहने वाले एक युवक का पड़ोस रहने वाली युवती से पहले आंखे चार हुई और फिर प्यार हो गया। इस दौरान शारीरिक सबंध भी बने औऱ साथ जीने मरने का सपना संजोने लगे। युवती जब गर्भवती हुई तो प्रेमी युवक ने प्रेमिका की गला घोटकर हत्या कर दी। हत्या पर पर्दा डालने हत्यारे ने शव को जंगल मे शव को फेंककर आराम से घूमता रहा। युवती की गुमशुदगी रिपोर्ट के आधार पर जब फिर से फाइल खुली परत दर परत खुलासा होते गया। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

 

मामला लेमरू थाना के केउबहर का है। जहाँ दिनांक 11.01.2021 को सूचक कुमारी एम्मा बड़ा पिता स्व. निर्मल बड़ा उम्र. 33 साल साकिन ग्राम केउबहार थाना लेंमरू जिला कोरबा द्वारा एक लिखित आवेदन की जिसमे इसकी छोटी बहन कुमारी असीमा बड़ा पिता स्व. निर्मल बड़ा उम्र 20 साल साकिन केउबहार थाना लेंमरू जिला कोरबा दिनांक 10. 10.2020 को कोरबा काम करने जाने के नाम से घर से निकली है जो आज दिनांक तक घर वापस नहीं आई है। सूचक की रिपोर्ट पर थाना लेंमरू में दिनांक 11.01.2021 को गुम इंसान क. 01/2021 कायम कर जांच कार्यवाही में लिया गया। पुलिस के द्वारा इसमें जांच की जा रही थी।

 

पुलिस अधीक्षक जितेंद्र शुक्ला के द्वारा सभी थाना/चौकी का मीटिंग लेकर गंभीर अपराध, गुम इंसान पर विशेष ध्यान देने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया था । जिस पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक वर्मा एवं तीनों अनुभाग के अनुविभागीय अधिकारियों के मार्गदर्शन में सभी थाना प्रभारी इस पर कार्य कर रहे थे।

पुलिस अधीक्षक के द्वारा उप पुलिस अधीक्षक बेनेडिक्ट मिंज, नगर पुलिस अधीक्षक दर्री रॉबिंशन गुड़िया के मार्गदर्शन में एक विशेष टीम बनाया गया जिसमें थाना प्रभारी लेंमरू जितेंद्र यादव और उनके स्टाफ तथा साइबर सेल प्रभारी अजय सोनवानी और उनके स्टाफ को थाना लेंमरू के गुम इंसान कुमारी असीमा बड़ा के गुम इंसान में काम करने के लिए लगाया गया था। जिसमें टीम के द्वारा गुम इंसान के सभी पहलुओं को बारीकी से अध्ययन किया गया। समस्त गवाहों से पूछताछ किया गया पूछताछ में एक नई बात खुल के बाहर आई कि कुमारी असीमा बड़ा गुमशुदगी के समय दो माह की गर्भवती थी। त उसका प्रेमी अनसेलम लकड़ा गर्भ चेक कराने के लिये कम्पाउंडर के पास लेकर आया था एवं प्रेग्नेंसी चेक करने पर गर्भवती होना पता चलने पर अनसेलम लकड़ा ने गर्भपात कराने का दवा भी लिया था। इस बात की जानकारी होने पर इस तथ्य की तस्दीकी हेतु संबधित कम्पाउंडरो से पूछताछ करने पर उनके द्वारा उक्त बातो की पुष्टि किया गया। इस आधार पर अनसेलम लकड़ा के पूर्व के बयान का अध्ययन करने पर उसके द्वारा असीमा बड़ा के गर्भवती होने संबधी बात को छुपा दिया जाना पाया गया। असीमा बड़ा के प्रेमी अनसेलम लकड़ा को तलब कर पूछताछ करने पर उसने पहले तो पुलिस टीम को गुमराह करने लगा बाद में टीम के द्वारा कड़ाई से पूछताछ करने एवं सभी पहलू को उसके सामने रखने पर उसने अपना जुर्म कबूल किया। आरोपी ने लगभग 04 साल पूर्व असीमा बड़ा के गुमशुदगी दिनांक 09-10-2020 को ही रस्सी से गला घोंटकर हत्या कर उसके लाश को छिपाने के नियत से घाटी एवं घने जंगलो के खाई में फेंक देने की बात बताया। संदेही के निशादेही पर घटना स्थल टोपरघाट के जंगल लेंमरू श्यांग रोड में गुम इंसान असीमा बड़ा के लाश के अवशेष कपाल (मानव खोपड़ी), एव उसके शरीर की 5 अन्य अस्थियां बरामद हुईं साथ हीं घटनास्थल पर ही मृतिका के कपड़े बाल पायल वगैरह भी मिला जिनके आधार पर मृतिका की पहचान असीमा बड़ा के रूप में हुई है। आरोपी के मेमोरेंडम के आधार पर उपरोक्त वस्तुएं बरामद कर जप्त किया गया, मामले में थाना लेंमरू मे मर्ग कमांक 01/24 धारा 174 दप्रसं तथा अपराध कमांक 06/24 धारा 302, 201 भादवि कायम कर आरोपी को विधिवत गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड में भेजा जा रहा है।

 

इनका रहा योगदान

इस कार्यवाही में थाना प्रभारी लेंमरू जितेंद्र यादव, साइबर सेल प्रभारी अजय सोनवानी, प्रआर. सुदेश तिर्की, चंद्रशेखर पांडे, गुनाराम सिंहा, आरक्षक प्रशांत सिंह, जितेंद्र जायसवाल, डेमन ओगरे, विपिन नायक, विक्रम नारंग, दिनेश रत्नाकर की सराहनीय योगदान रहा।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments