Tuesday, February 27, 2024
Homeदेशहथकड़ी इतनी टाइट थी कि नसें दब गईं, हाथ काटना पड़ा... शख्स...

हथकड़ी इतनी टाइट थी कि नसें दब गईं, हाथ काटना पड़ा… शख्स ने पुलिस पर ठोका मुकदमा

वेब डेस्क। जियोवानी लोयोला को रह-रहकर 16 फरवरी, 2020 की शाम याद आती है. अलाबामा में रहने वाले लोयोला की उम्र उस समय 25 साल थी. उस शाम वह अपनी मां के ट्रेलर में टीवी देख रहे थे कि दरवाजे पर दस्तक हुई. दरवाजा खोला तो सामने कई पुलिसवाले खड़े थे. शांति भंग करने के आरोप में गिरफ्तार करने आए थे. जियोवानी लोयोला का दावा है कि उनके हाथों में पहनाई गई हथकड़ी बहुत कसी हुई थी. वह दर्द से कराह रहे थे और बार-बार हथकड़ी ढीली करने को बोल रहे थे. उनके बाएं हाथ की नसों तक खून पहुंचना बंद हो गया था. पुलिस ने एक नहीं सुनी और उसे जेल लेकर गई. रिहाई के बाद लोयोला अस्पताल पहुंचे तो डॉक्टरों ने उन्‍हें बार-बार कहा कि ऑपरेशन करना पड़ेगा. पहले तीन उंगलियों का ऊपरी हिस्सा काटा गया. फिर तीन सर्जरी और हुईं. आखिर में डॉक्‍टर्स ने तय किया कि पूरा हाथ ही काटना पड़ेगा.

बाएं हाथ पर पट्टी बांधे जियोवानी लोयोला ने अब पुलिस पर मुकदमा ठोक दिया है. लोयोला का आरोप है कि उन्‍हें अरेस्ट करते समय पुलिस ने बहुत ज्यादा ताकत का इस्तेमाल किया. उनके सिविल राइट्स का भी हनन किया गया. लोयोला की अपील पर जेफरसन काउंटी शेरिफ के डिपार्टमेंट के खिलाफ ट्रायल 15 अप्रैल से शुरू होगा

हथकड़ी ढीली कर दो’, पुलिस ने अनसुनी कर दी पुकार

लोयोला ने अपनी आपबीती बयान करते हुए AL.com से कहा कि ‘वह नहीं चाहते कि किसी को ऐसा दर्द झेलना पड़े.’ अपनी शिकायत में लोयोला ने कहा कि ‘डेप्‍युटी गॉडबर बिना इजाजत घर में घुसे, मुझे कलाई से पकड़ा और फिर धकेलते हुए घर से बाहर ले आए.’ उनका दावा है कि पुलिस अधिकारियों ने उन्‍हें कार पर पटका फिर जमीन पर, उसके बाद कलाइयों पर हथकड़ी लगा दी. लोयोला ने कहा कि उन्‍होंने बार-बार हथकड़ी एडजस्ट करने को कहा लेकिन पुलिस ने एक नहीं सुनी. जेल पहुंचने के बाद मेडिकल इलाज की उसकी गुहार को भी अनसुना कर दिया गया.

22 फरवरी 2020 की अपनी रिपोर्ट में डेप्‍युटी गॉडबर ने कहा कि लोयोला की जुबान लड़खड़ा रही थी, वह नशे में था और अपनी मां के घर में जोर-जोर से बहस कर रहा था. पुलिस के अनुसार, आरोपी डेप्‍युटी गॉडबर से फौरन झगड़ने लगा. उसने हथकड़ी लगाए जाने का विरोध किया.

चार सर्जरी के बाद भी नहीं बच पाया हाथ

बाद में जब लोयोला अस्पताल गए तो उन्‍हें बताया गया कि हाथ का ऑपरेशन करना पड़ेगा. मार्च 2020 में सर्जरी करके तीन उंगलियों का ऊपरी भाग निकाल दिया गया. इसके बावजूद दर्द नहीं कम हुआ. अगले 10 महीने के दौरान लोयोला की चार सर्जरी हुईं लेकिन परेशानी नहीं दूर हुई. आखिरकार डॉक्‍टर्स को उनका हाथ काटकर अलग करना पड़ा.

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments